Feb 25 2024 / 2:14 PM

लोकसभा में बोले पीएम मोदी- ये पांच साल देश में रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म के थे

Spread the love

नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र का शनिवार को अंतिम दिन रहा। इस दिन राम मंदिर पर लोकसभा में चर्चा हुई। इसके अलावा अन्य काम भी हुए। इस सत्र के अंतिम दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में अपने दूसरे कार्यकाल का अंतिम संबोधन दिया। पीएम मोदी ने लोकसभा में कहा कि हमारी सरकार का पिछला 5 साल देश के रिफॉर्म, ट्रांसफॉर्म और परफॉर्म का रहा है। मैं सदन और सभी सांसदों को धन्यवाद देता हूं।

पीएम मोदी ने कहा, सदन के नेता और एक सहयोगी के रूप में आप सभी को आभार। अध्यक्ष महोदय, मैं आपका आभार देता हूं। कभी-कभी सुमित्रा जी मजाक करती थीं। आपका चेहरे पर हमेशा मुस्कान बनी रही। आपने हर स्थिति को धैर्य और स्वतंत्रता के साथ निपटाया है। इन पांच वर्षों में मानवता इस सदी की सबसे बड़ी चुनौती से निपटी। ऐसी स्थिति थी। सदन में आना एक चुनौती थी। अध्यक्ष महोदय, आपने सुनिश्चित किया कि सभी उपाय किए जाएं और देश का काम कभी न रुके।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि इस कालखंड में भारत को जी-20 की अध्यक्ष मिली। इस दौरान पूरी दुनिया से हमें बहुत सम्मान मिला। देश के हर राज्य ने अपने-अपने तरीके से विश्व के सामने भारत के सामर्थ्य और राज्य की पहचान बखूबी तौर पर प्रस्तुत की। आज भी विश्व के मन पर इसका प्रभाव है। जी-20 की तरह ही पी-20 का भी सम्मेलन हुआ। इस दौरान अनेकों देशों के स्पीकर भारत आए। आपने (स्पीकर बिरला) मदर ऑफ डेमोक्रेसी भारत की सदियों से चली आ रही वैल्यूज को पेश करने का काम किया।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि इस कार्यकाल में बहुत सारे री-फॉर्म किए गए, जो गेम चेंजर हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हम बड़े बदलाव की ओर बढ़ रहे हैं। इस कार्यकाल में वो इंतजार भी खत्म हुआ, जिसका सपना कई पीढ़ियों ने देखा था। अनेक पीढ़ियों ने एक संविधान का सपना देखा था, हर पल हमें संविधान में एक दरार दिखती थी, जो चुभती थी। इस कार्यकाल में सदन ने 370 हटाकर संविधान के पूर्ण रूप को, पूर्ण प्रकाश के साथ प्रकट किया।

संसद का नया भवन होने की जरूरत सबने दिखाई, इस पर चर्चा भी हुई। लेकिन निर्णय नहीं होता था। ये आपका नेतृत्व है जिसने निर्णय किया और इसी का परिणाम है कि आज देश को नया संसद भवन प्राप्त हुआ है। एक संसद के नए भवन में एक विरासत का अंश और जो आजादी की पहला पल था। उसको जीवंत रखने का हमेशा-हमेशा हमारे मार्गदर्शक रूप में सेंगोल को यहां स्थापित करने का काम किया गया

पीएम मोदी ने कहा कि 17वीं लोकसभा की कार्य उत्पादकता 97 प्रतिशत रही, मुझे विश्वास है कि हम 18वीं लोकसभा में शत प्रतिशत की उत्पादकता रहने का संकल्प लेंगे। पीएम मोदी ने कहा कि इस कार्यकाल में परिवर्तनकारी सुधार हुए, 21वीं सदी के भारत की मजबूत नींव इनमें नजर आती है।

Chhattisgarh