Feb 25 2024 / 1:31 PM

राज्यसभा में विपक्ष पर जमकर बरसे पीएम मोदी, बोले- कांग्रेस 40 सीटें भी नहीं जीत पाएगी

Spread the love

नई दिल्ली। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के अभिभाषण पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में जवाब दिया। पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे का विशेष आभार जताया। पीएम ने कहा कि खड़गे जी को चौके-छक्के मारने पर मजा आ रहा था। उन्होंने एनडीए को 400 सीटों को आशीर्वाद दिया। उनका आशीर्वाद सिर आंखों पर है।

पीएम मोदी ने व्यंग्य करते हुए कहा कि खड़गे ने लोकसभा में मनोरंजन की कमी को पूरा किया है। मुझे खुशी हुई कि खड़गे लंबे समय तक और बड़ी सहजता से बोल रहे थे। उस समय, मैं सोच रहा था कि उन्हें बोलने की कितनी आजादी दी गई है। बाद में, मुझे ख्याल आया कि जो दो विशेष कमांडो थे उस दिन वहां मौजूद रहने के लिए अनुपस्थित थे। ऐसे में खड़गे जी ने अपनी आजादी का पूरा फायदा उठाया। पीएम मोदी ने व्यंग्य करते हुए कहा कि खड़गे जी ने उस दिन कोई सिनेमा गाना सुना होगा- उन्हें ऐसा मौका और कहां मिलेगा।

ममता बनर्जी के बयान का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पश्चिम बंगाल से चुनौती आई है कि कांग्रेस 40 पार नहीं कर पाएगी। मैं प्रार्थना करता हूं कि आप 40 बचा पाएं। मुझे विश्वास है कि यह पार्टी सोच के मामले में पुरानी हो चुकी है और इसलिए उन्होंने अपना काम आउटसोर्स कर दिया है। देखते ही देखते देश पर राज करने वाली इतनी बड़ी पार्टी गर्त में जा रही है।

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अंग्रेजों से प्रेरित थी। इसलिए आजादी के बाद उनका ही कल्चर और कानून चलाया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस आजादी के बाद से ही कंफ्यूजन में रही है। सत्ता के लालच में कांग्रेस ने सरेआम लोकतंत्र का गला घोंट दिया।

पीएम मोदी ने कहा कि मैं जरा इनसे (कांग्रेस) पूछना चाहता हूं कि अंग्रेजों से कौन इन्सपायर्ड था? मैं ये नहीं पूछूंगा कि कांग्रेस को जन्म किसने दिया था। आजादी के बाद किसने देश में गुलामी की मानसिकता को बढ़ावा दिया। अगर आप अंग्रेजों से प्रभावित नहीं थे, तो उनकी बनाई हुई दंड संहिता क्यों नहीं बदला। अंग्रेजों के जमाने के सैकड़ों कानून अब तक क्यों चलते रहे। देश में लाल बत्ती कल्चर क्यों चलता रहा। देश का बजट इतने सालों तक शाम को 5 बजे आता था? क्योंकि ये ब्रिटिश संसद शुरू होने का वक्त था। अंग्रेजों से कौन इंस्पायर्ड था।

प्रधानमंत्री मोदी ने राज्यसभा में कहा कि जिस कांग्रेस पार्टी ने जात-पात और भाषा के नाम पर देश को बांटने में कोई कसर नहीं छोड़ी, कांग्रेस ने आतंकवाद और अलगाववाद को अपने हित में पनपने दिया, पूर्वोत्तर को पिछड़ेपन में ढकेल दिया, नक्सलवाद को एक बड़ी चुनौती बना दिया, देश की जमीन को दुश्मनों के हवाले कर दिया, सेना का आधुनिकीकरण नहीं किया गया। पीएम ने कहा कि कांग्रेस आजादी के बाद से ही कंफ्यूज रही है, वे इसी में उलझे रहे कि उद्योग जरूरी है या खेती। उन्हें नेशनलाइजेशन करना है या फिर प्राइवटाइजेशन करना है।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि आज आप सबके (कांग्रेस) द्वारा बहुत बड़ी-बड़ी बातें बोली जाती हैं, लेकिन वे सुनने की ताकत खो चुके हैं। जिस कांग्रेस ने सत्ता के लालच में सरेआम देश के लोकतंत्र का गला घोंट दिया था। जिस कांग्रेस ने दर्जनों बार लोकतांत्रिक तरीके से हुई सरकारों को भंग किया था। जिस कांग्रेस ने देश के संविधान और लोकतंत्र की मर्यादा को जेल की सलाखों के अंदर बंद कर दिया था। जो कांग्रेस पहले देश को तोड़ने के नैरेटिव गढ़ती थी, उसे अब नया शौक पैदा हुआ है। उसने इतना तोड़ा लेकिन अभी कम नहीं है, अब वे उत्तर-दक्षिण को तोड़ने के लिए बयान दे रहे हैं और ये कांग्रेस हमें लोकतंत्र पर प्रवचन दे रही है।

Chhattisgarh