Feb 22 2024 / 3:15 PM

महादेव ऐप मामला: ईडी की चार्जशीट में बड़ा खुलासा, पूर्व सीएम भूपेश बघेल को भेजे गए 508 करोड़ रुपये

Spread the love

रायपुर। महादेव बेटिंग ऐप मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की चार्जशीट में बड़ा खुलासा हुआ है। चार्जशीट में छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम भूपेश बघेल का नाम भी सामने आया है। प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने इस मामले में 5 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की। चार्जशीट में शुभम सोनी, अमित कुमार अग्रवाल, रोहिल गुलाटी, भीम सिंह और असीम दास का नाम शामिल है।

चार्जशीट में बताया गया है। गिरफ्तार किए गए, आरोपी असीम दास जोकि इस महादेव बेटिंग एप के प्रोमोटर के लिए हिंदुस्तान में कुरियर का काम करता था। उसके ठिकानों से हाल ही में रेड कर करीब 5.39 करोड़ रुपये बरामद हुए थे, जिसके बाद उसकी गिरफ्तारी हुई थी।

चार्जशीट में यह भी कहा गया है कि असीम दास ने पूछताछ में ईडी को बताया है कि ये पैसा हाल ही में छत्तीसगढ़ में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस पार्टी के नेता और छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएण भूपेश बघेल के लिए भेजे गए थे।

चार्जशीट में भूपेश बघेल का नाम सामने आने के बाद अब उनकी मुश्किलें बढ़ सकती है। असीम दास ने पूछताछ में ईडी को बताया कि महादेव बेटिंग ऐप के प्रमोटर्स की तरफ से भूपेश बघेल को कुल 508 करोड़ रुपये दिए गए थे। ईडी ने चार्जशीट में ये लिखा कि गिरफ्तारी के बाद असीम दास ने 2 नवंबर 2023 को जो अपना बयान दिया था, उससे वो पलट गया था।

असीम ने उस दिन अपने वकील के साथ आए एक शख्स के प्रभाव में आकर अपने बयान पलटे थे। उसे पहले से टाइप किया वो बयान दिया गया था और बोला गया था कि उसी बयान पर अपने द्वारा लिखकर साइन कर दे, जिससे उसे कोर्ट में फायदा होगा।

बता दें कि ये वो बयान था, जिसमें उसने बोला था कि बरामद पैसा नेता भूपेश बघेल के लिए हवाला के जरिए आया था। ईडी ने ये भी लिखा कि 3 नवंबर को जो बयान असीम ने दिया था वो एक दम सही था। यानी भूपेश बघेल का नाम लेना सही था।

Chhattisgarh