Aug 13 2022 / 6:25 AM

अफगानिस्तान: काबुल में गुरुद्वारे पर फिर आतंकी हमला, मेन गेट के सामने हुआ विस्फोट





Spread the love

नई दिल्ली। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में स्थित करते परवन गुरुद्वारे पर फिर आतंकी हमला हुआ है। इस गुरुद्वारे पर हमला कर एक बार फिर से दहशत फैलाने की कोशिश की जा रही है। यह हमला गुरुद्वारे के गेटे के पास ही एक दुकान के अंदर हुआ है। बताया जा रहा है कि ये दुकान एक सिख समुदाय के व्यक्ति की थी। हालांकि हिंदू और सिख समुदायों के सदस्यों के सुरक्षित होने की सूचना है। इंडियन वर्ल्ड फोर्म के चैयरमेन पुनीत सिंह चंडोक ने यह जानकारी दी।

जानकारी के मुताबिक ये अफगानिस्तान की राजधानी काबुल का एक बड़ा गुरुद्वारा है और वहां पर मौजूद सिख और हिंदु समुदाय के लोग सुरक्षित बताए जा रहे हैं। बता दें कि इससे पहले भी जून के महीने में काबुल में गुरुद्वारे के पास दो धमाके हुए थे। उस वक्त धमाके से दो लोगों की जान भी चली गई थी और कई लोग घायल भी हो गए थे।

बता दें कि अगस्त 2021 में तालिबान ने बीस वर्षों के बाद अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था। सत्ता में तालिबान के आने के बाद से लगातार सिख समुदाय सहित अन्य धार्मिक अल्पसंख्यक अफगानिस्तान में हिंसा का निशाना बन रहे हैं।

तालिबान बार-बार सत्ता में आने के बाद से देश को सुरक्षित करने का दावा करता रहा है लेकिन बार-बार होने वाले आतंकी हमले न केवल उन दावों का खंडन करते हैं बल्कि आतंकवाद के फिर से उठने के संभावित जोखिम के बारे में अंतरराष्ट्रीय समुदाय की चिंताओं को महत्व देते हैं।

पर्यवेक्षकों का मानना है कि इस तरह के हमलों से देश में आतंकवाद की एक नई लहर शुरू हो सकती है और छोटे समूहों को अंदरूनी सूत्रों का मौन समर्थन प्राप्त होगा। और उनका मानना है कि युद्धग्रस्त देश के पुनर्निर्माण में खुद को शामिल नहीं करने के पीछे अमेरिका और पश्चिम का प्राथमिक कारण यही रहा है।

पिछले साल जब तालिबान ने काबुल पर कब्जा किया था तब अफगानिस्तान में हिंदुओं और सिखों की संक्या केवल 600 के करीब थी। जो बचे हैं वे मुख्य रूप से सुन्नी कट्टरपंथी समूहों द्वारा लक्षित किए जाते रहे हैं।

Chhattisgarh