Feb 25 2024 / 3:06 PM

सभी के जीवन में रेडियो से जुड़ी कोई न कोई घटना अमिट स्मृति के रूप में विद्यमान है – मुख्यमंत्री डॉ. यादव

Spread the love

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विश्व रेडियो दिवस की दीं शुभकामनाएं
13 फरवरी को होता है विश्व रेडियो दिवस

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि अतीत में रेडियो का बहुत महत्व था, वर्तमान में भी इसकी महत्ता निरंतर बनी हुई है। भारत में ऑल इंडिया रेडियो और आकाशवाणी ने अपनी विश्वसनीयता बनाए रखी है। गौरवान्वित होने का विषय है कि यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मन की बात द्वारा रेडियो का महत्व पुन: स्थापित किया है। रेडियो शिक्षा, मनोरंजन और सभी प्रकार की जानकारी देने के लिए आज भी जनसामान्य में अत्यंत लोकप्रिय संसाधन है। हम सभी के जीवन में रेडियो से जुड़ी कोई न कोई घटना अमिट स्मृति के रूप में विद्यमान है। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विश्व रेडियो दिवस 13 फरवरी को प्रदेशवासियों के नाम जारी संदेश में यह बात कही और प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दीं।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि भारत में ऑल इंडिया रेडियो की स्थापना 8 जून 1936 को हुई। इससे पहले 1927 में मुम्बई और कलकत्ता में रेडियो क्लब ने प्रसारण किया था। संपूर्ण भारत की लगभग 99.19 प्रतिशत जनसंख्या आकाशवाणी की पहुंच में है, यह हम सबके लिए गौरव का विषय है। मध्यप्रदेश में वर्तमान में आकाशवाणी के 19 केन्द्र संचालित हैं।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विश्व रेडियो दिवस पर एफ.एम. रेडियो को बधाई देते हुए कहा कि निजीकरण और नई सूचना तकनीक का लाभ लेते हुए एफ.एम. रेडियो ने भी अपनी पहचान बनाई है। मध्यप्रदेश को गढ़ने और आगे बढ़ाने में रेडियो निरंतर अपनी भूमिका निभाता रहेगा।

Chhattisgarh