Oct 06 2022 / 10:42 PM

जनता को योजनाओं का लाभ मिले और वे प्रसन्न रहें, तभी शासन-प्रशासन की सार्थकता

Spread the love

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उमरिया जिले में आवास योजनाओं के बेहतर अमल की प्रशंसा की

उमरिया जिले में संचालित कार्यों की हुई वर्चुअल समीक्षा

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आम जनता योजनाओं से लाभान्वित होने के साथ प्रसन्न और संतुष्ट भी रहे, तभी विभाग के कार्य पूर्ण सार्थक होंगे उमरिया जिले ने सुदूर ग्रामीण अंचलों तक घर-घर अनाज पहुँचाने और आवासहीनों को छत देने का कार्य बखूबी किया है। इसके लिए जिले का प्रशासनिक अमला बधाई का पात्र है। अन्य योजनाओं में भी क्रियान्वयन की रफ्तार बढ़ाई जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निवास से उमरिया जिले में संचालित कल्याणकारी कार्यों और योजनाओं के क्रियान्वयन की वर्चुअल समीक्षा कर रहे थे। जनजातीय कार्य, अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह, विधायक श्री शिवनारायण सिंह, कमिश्नर शहडोल श्री राजीव शर्मा और कलेक्टर उमरिया श्री संजीव श्रीवास्तव वर्चुअली सम्मिलित हुए। मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

आवास योजनाओं का क्रियान्वयन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उमरिया जिले में प्रधानमंत्री आवास और मुख्यमंत्री आवास योजना में गंभीरता से लक्ष्य अनुरूप कार्यों को पूर्ण करने की प्रशंसा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आवास प्लस में 8700 आवास के मुकाबले 8 हजार से अधिक आवासों की मंजूरी के लिए भी प्रशंसा की। आवास योजना से लाभान्वित हितग्राहियों को प्रधानमंत्री श्री मोदी और मुख्यमंत्री श्री चौहान के बधाई एवं शुभकामना-पत्र भी मिले हैं। जिले में मासिक लक्ष्य तय कर कार्य किया जा रहा है। हितग्राही को आवास के लिए रेत की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जा रही है। साथ ही जिला स्तर पर हितग्राही को पृथक से आर्थिक सहयोग दिलवाने के भी प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भी हितग्राहियों को सस्ती रेत दिलवाने के निर्देश पूर्व में दिए हैं। कलेक्टर ने बताया कि हितग्राही को आवास बनाने के लिए यदि भूमि उपलब्ध नहीं होती, तो उसके लिए भी प्रशासन सहयोग करता है। इस क्रम में साऊथ ईस्टन कोल फील्ड के बिलासपुर स्थित वरिष्ठ अधिकारियों से उनके संस्थान की भूमि पर पाली के हितग्राहियों के आवास निर्माण की पहल की गई है।

राशन वितरण की सुदृढ़ व्यवस्था

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उमरिया में राशन वितरण कार्य के सुचारू संचालन के लिए बधाई दी। कलेक्टर ने बताया कि “मुख्यमंत्री राशन आपके द्वार” योजना में जिले में पाँच वाहनों का संचालन युवा हितग्राहियों द्वारा किया जा रहा है। सभी को समय पर अनाज प्राप्त हो जाता है। योजना शुरू होने से ग्रामवासी आनंदित और संतुष्ट हैं।

घर-घर पहुँचाएँ पीने का पानी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने समूह जल प्रदाय योजना, जल जीवन मिशन और शहरी पेयजल योजना के कार्यों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि नौरोजाबाद और चंदिया में सुचारू जल प्रदाय सुनिश्चित किया जाए। अपूर्ण कार्यों को अभियान चलाकर पूर्ण किया जाए। मानपुर में भी पेयजल प्रदाय की समीक्षा की जाए। उमरिया जिले के आकाशकोट जहाँ ऊँचे पहाड़ी क्षेत्र में ग्रामवासी निवास करते हैं, पेयजल पहुँचाना प्रशासन का दायित्व है। इसी तरह जल जीवन मिशन के कार्यों से सड़क और अन्य सम्पत्तियों के प्रभावित होने पर आवश्यक सुधार कार्य भी समय पर किए जाएँ। मिशन के कार्यों में गुणवत्तापूर्ण सामग्री का उपयोग सुनिश्चित हो। दोषी ठेकेदारों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाए।

जन-कल्याण के सभी कार्यों पर रखें नजर

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि नागरिकों को सुचारू बिजली, स्वास्थ्य सेवाओं, पोषण सामग्री के प्रदाय और पथ विक्रेताओं को कल्याण योजनाओं का लाभ पहुँचाने के सतत प्रयास किए जाएँ। योजनाओं का लाभ प्राप्त कर जनता का संतुष्टि स्तर बढ़े। कमिश्नर शहडोल भी समय-समय पर कार्यों का निरीक्षण करें। नियमित रूप से कल्याणकारी कार्यक्रमों की समीक्षा हो। जन-कल्याण के कार्यों पर वरिष्ठ अधिकारियों और विभागीय अमले द्वारा नजर रखी जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने “एक जिला-एक उत्पाद” योजना, चंदिया मिनी स्मार्ट योजना के क्रियान्वयन, रोजगार दिवस आयोजन और विभिन्न भवनों के निर्माण की स्थिति की जानकारी भी प्राप्त की। कलेक्टर ने बताया कि चंदिया में नवीन बस स्टैण्ड तैयार हो चुका है। सड़क निर्माण का कार्य अभी शेष है।

आँगनवाड़ियों को सक्षम बनाने चलायें जन-अभियान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आँगनवाड़ियों को फर्नीचर, खिलौने और बच्चों के लिए ड्रेस देने के साथ भवनों की पुताई, साज-सज्जा के कार्य पूर्ण किए जाएँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिन लोगों ने आँगनवाड़ियाँ गोद ली हैं, उन्हें परस्पर जोड़ कर संवाद कार्यक्रम किए जाएँ। संवाद से अनेक समस्याएँ सामने आती हैं और उनका निराकरण भी संभव होता है। आँगनवाड़ियों को सक्षम बनाने का कार्य जन-अभियान चला कर किया जाए। पोषण आहार की नियमित आपूर्ति पर नजर रखी जाए। यहाँ आने वाले बच्चों के लिए आयरन और कैल्श्यिम की टेबलेट का वितरण भी किया जाए। कलेक्टर उमरिया ने बताया कि जिले की सभी आँगनवाड़ियों को एडाप्ट किया जा चुका है।

“एक जिला-एक उत्पाद” को बनाएँ लोकप्रिय

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उमरिया जिले में “एक जिला-एक उत्पाद” योजना में महुआ का चयन किया गया है। महुआ के लड्डू और बिस्किट आजीविका पोर्टल के साथ अन्य माध्यमों से भी बेचे जाएँ। इनका विक्रय जेम पोर्टल से देश-विदेश तक हो सकता है। महुआ के उत्पाद लोकप्रिय बनाने के लिए ब्रांडिंग का कार्य भी हो। कलेक्टर ने बताया कि बांधवगढ़ नेशनल पार्क सहित जिले के अन्य स्थानों के रिसोर्ट्स में भी महुआ के उत्पाद उपलब्ध करवाए गए हैं। जबलपुर में इन उत्पादों की अच्छी बिक्री हो रही है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अमृत सरोवर के निर्माण और उनके सौन्दर्यीकरण के निर्देश दिए। कलेक्टर ने बताया कि जिले में तीन सरोवर तैयार हुए हैं। इनका जल स्तर भी अच्छा है। केन्द्र सरकार के दल ने अपने निरीक्षण में इन सरोवरों की प्रशंसा की है। पर्यटकों को भी यह सरोवर आकर्षित कर रहे हैं।

जानकारी दी गई कि उमरिया जिले में शिशु और मातृ मृत्यु दर कम करने पर फोकस किया जा रहा है। जिले में मातृ मृत्यु दर 187 और शिशु मृत्यु दर 67 है। आयुष्मान कार्ड निर्माण का कार्य प्रगति पर है। प्रतिदिन 600 से अधिक कार्ड तैयार हो रहे हैं। कलेक्टर ने बताया कि जिले में विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा के हितग्राही आहार अनुदान योजना के क्रियान्वयन से और पीएम और सीएम किसान निधि से लाभान्वित छोटे और सीमांत किसान प्रसन्न हैं।

Chhattisgarh