Feb 22 2024 / 5:19 PM

इंदौर के यातायात को सुगम और सरल बनाने के लिए व्यापारी संगठनों के साथ बैठक आयोजित

Spread the love

व्यापारियों से प्राप्त सुझाव पर सडक सुरक्षा समिति करेगी विचार

इंदौर। गत दिवस मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव द्वारा इंदौर के यातायात को नंबर वन बनाने की दिशा में एलिवेटेड कॉरिडोर का शिलान्यास किया गया था। इसी क्रम में जिले में यातायात व्यवस्था को सरल और सुगम बनाने के लिए आज व्यापारी संगठनों के साथ सिटी बस कार्यालय में बैठक आयोजित की गई। बैठक में महापौर श्री पुष्यमित्र भार्गव, कलेक्टर श्री आशीष सिंह, यातायात पुलिस अधिकारी एवं नगर निगम के अधिकारी उपस्थित रहे।

बैठक में महापौर श्री पुष्यमित्र भार्गव ने कहा कि इंदौर को स्वच्छता के साथ ही यातायात प्रबंधन में बेहतर बनाने के लिये मुख्यमंत्री जी द्वारा विगत दिवस एलिवेटेड ब्रिज निर्माण कार्य का शुभारम्भ किया गया, साथ ही शहर के विभिन्न मार्गो को वन वे किया गया है। इसी क्रम में शहर के जवाहर मार्ग व एमजी रोड मार्ग को वन वे किये जाने के पश्चात क्षेत्रीय व्यापारियों से बेहतर यातायात प्रबंधन के संबंध में सुझाव प्राप्त करने के लिए आज की यह बैठक आयोजित की गई है। व्यापारियों द्वारा इस संबंध में कई सुझाव दिए गए जिन पर सर्व सहमति से विचार विमर्श कर निर्णय लेकर आगे आने वाले समय में अवगत कराने की बात कही गई। इसके साथ ही जवाहर मार्ग व एमजी रोड के व्यापारियों से चर्चा करते हुए, दुकानदार व दुकान के स्टाफ के वाहन निगम के अन्य बहुमंजिला पार्किंग स्थलों पर रखने के संबंध में चर्चा की गई। इस संबंध में एआईसीटीएसएल के माध्यम से पूल वाहन संचालित करने की भी बात कही गई। महापौर श्री पुष्यमित्र भार्गव ने कहा कि व्यापारियों से प्राप्त सुझाव पर सडक सुरक्षा समिति के माध्यम से गम्भीरता से विचार किया जायेगा।

बैठक में ई-रिक्क्षा के संबंध में नियम बनाने, जवाहर मार्ग व एमजी रोड मार्ग के लिंक रोड को व्यवस्थित करने, गंगवाल बस स्टेण्ड से सरवटे बस स्टेण्ड तक सडक निर्माण को शीघ्र पूर्ण करने, दुकानदारों व व्यापारियों के साथ ही स्टाफ के वाहन निर्धारित पार्किंग स्थल पर रखने के सुझाव दिये गये। कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने कहा कि जल्द ही ई-रिक्शा को लेकर एक नीति बनाई जाएगी जिसमें उनके रूट निर्धारण की व्यवस्था को भी तय किया जाएगा। इस संबंध में समिति द्वारा दिए गए सुझावों को दृष्टिगत रखते हुए विचार विमर्श किया जाएगा।

Chhattisgarh