Feb 06 2023 / 3:49 PM

सकट चौथ 2023: जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

Spread the love

हिंदू पंचांग के अनुसार माघ माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि के दिन सकट चौथ का व्रत रखा जाता है जो कि आज यानि 10 जनवरी को रखा जाएगा। यह व्रत महिलाएं अपनी संतान की लंबी आयु और सुख-समृद्धि के लिए रखती हैं। सकट चौथ के दिन फलाहार लिया जाता है और रात को चंद्रमा को अर्घ्य देने के बाद व्रत का पारण किया जाता है। इसके अलावा जो महिलाएं संतान प्राप्ति की कामना रखती हैं तो उन्हें भी सकट चौथ का व्रत जरूर करना चाहिए।

शुभ मुहूर्त

हिंदू पंचांग के अनुसार आज यानि 10 जनवरी को माघ माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि है और इस दिन सकट चौथ का व्रत रखा जाएगा। यह तिथि इस बार 10 जनवरी 2023 को दोपहर 12 बजकर 9 मिनट पर शुरू होगी और 11 जनवरी को दोपहर 2 बजकर 31 मिनट पर इसका समापन होगा। इस व्रत में चंद्रोदय का विशेष महत्व है क्योंकि रात्रि के समय चंद्रमा को जल देकर ही व्रत खोला जाता है। इसलिए यह व्रत 10 जनवरी के दिन रखा जाएगा। इस दिन चंद्रोदय रात 8 बजकर 41 मिनट पर होगा।

सकट चौथ पूजन विधि

सकट चौथ के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करें और स्वच्छ कपड़े पहनें। पूजा के लिए भगवान गणेश की प्रतिमा को ईशानकोण में चौकी पर स्थापित करें। चौकी पर लाल या पीले रंग का कपड़ा पहले बिछा लें। भगवान के सामने हाथ जोड़कर पूजा और व्रत का संकल्प लें।

इसके बाद पूरे दिन व्रत रखें। शाम के समय भगवान गणेश को जल, अक्षत, दूर्वा घास, लड्डू, पान, धूप आदि अर्पित करें। अक्षत और फूल लेकर गणपति से अपनी मनोकामना कहें, उसके बाद ओम ‘गं गणपतये नम:’ मंत्र बोलते हुए गणेश जी को प्रणाम करें। एक थाली या केले का पत्ता लें, इस पर रोली से एक त्रिकोण बनाएं और त्रिकोण के अग्र भाग पर एक घी का दीपक रखें। संतान की लंबी आयु की कामना करें। पूजन उपरांत चंद्रमा को शहद, चंदन, रोली मिश्रित दूध से अर्घ्य दें। पूजन के बाद लड्डू प्रसाद स्वरूप ग्रहण करें।

Chhattisgarh