Aug 19 2022 / 7:58 AM

छत्तीसगढ़ के लोगों की संवेदनशीलता के कायल हो गए महाराष्ट्र के लोग





Spread the love

महाराष्ट्र के बजाय छत्तीसगढ़ में रहना चाहते हैं

बीजापुर के जनप्रतिनिधियों ने राज्य की सीमा पार कर बाढ़ प्रभावितों तक मदद पहुंचाई

राशन, बर्तन, कपड़ों, मच्छरदानियों आदि का किया वितरण

रायपुर। महाराष्ट्र के लोग छत्तीसगढ़ के जनप्रतिनिधियों की संवेदनशीलता के उस समय कायल हो गए जब बीजापुर के जनप्रतिनिधियों ने राज्य की सीमा पार करके गढ़चिरौली जिले के बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए हाथ बंटाया। वे बाढ़ प्रभावितों के लिए राशन, बर्तनों, कपड़ों, मच्छरदानी सहित बड़ी मात्रा में दैनिक उपयोग की सामग्री लेकर वहां पहुंचे थे।

क्षेत्रीय विधायक एवं बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री विक्रम शाह मंडावी को जानकारी मिली थी कि बीजापुर जिले की सीमा से लगे महाराष्ट्र के गांव सोमनपल्ली और उसके आसपास बाढ़ के कारण बहुत बुरे हालात हैं। कठिन परिस्थितियों में फंसे बहुत से लोग मुश्किल से दिन काट रहे हैं। इस सूचना के बाद विधायक श्री मंडावी ने बाढ़ प्रभावितों तक राहत सामग्री पहुंचाने का निर्णय लिया और अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ वे आवश्यक राहत सामग्री लेकर महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावितों तक पहुंचे। उन्होंने उनसे उनकी समस्याओं की जानकारी ली और अपने स्तर पर हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया। उन्होंने कहा कि उनकी समस्याओं की जानकारी मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल तक भी वे पहुंचाएंगे, ताकि और ज्यादा मदद की जा सके। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री शंकर कुडियम, जिला पंचायत एवं छत्तीसगढ़ कृषक कल्याण बोर्ड के सदस्य श्री बसंत राव ताटी सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

Chhattisgarh