Aug 13 2022 / 5:14 AM

सियान जतन क्लिनिकों में बुजुर्गों का निःशुल्क उपचार





Spread the love

आयुष द्वारा 4 अगस्त को आयोजित विशेष ओपीडी में कुल 9296 लोगों का इलाज

रायपुर। प्रदेश में आयुष संचालनालय (आयुर्वेद, योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी सिद्ध एवं होम्योपैथी) की सभी आयुष संस्थाओ में हर महीने के पहले गुरूवार को सियान जतन क्लीनिक का आयोजन किया जाता है। इन क्लीनिकों में 60 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों की निःशुल्क जाँच एवं उपचार किया जाता है। चालू अगस्त माह के पहले गुरूवार 4 अगस्त को प्रदेश भर के सियान जतन विशेष ओपीडी में कुल 9296 बुजुर्गों का निःशुल्क इलाज किया गया।

आयुष विभाग के सहायक संचालक डॉ. विजय साहू ने जानकारी दी कि डाइरेक्टर आयुष श्री पी. दयानंद के निर्देशन व मार्गदर्शन में राज्य के सभी जिलों के शासकीय आयुर्वेद, होम्योपैथी औषधालय, यूनानी औषधालय, जिला आयुर्वेद चिकित्सालय, आयुष पॉलीक्लीनिक, आयुष विंग, स्पेशलाइज्ड थैरेपी सेंटर, स्पेशियलिटी क्लीनिक तथा सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में संचालित सह-स्थापित आयुष केन्द्रों और आयुर्वेद महाविद्यालय चिकित्सालयों में बुजुर्गों के लिए विशेष ओपीडी का संचालन किया गया। इस दौरान वृद्धावस्था से संबंधित विकारों व व्याधियों के साथ ही विभिन्न शारीरिक एवं मानसिक रोगों का आयुष के माध्यम से उपचार प्रदान किया जाता है। इन विशेष ओपीडी में बुजुर्गों को सभी तरह की चिकित्सा जांच और इलाज निःशुल्क प्रदान किया जाता है। साथ ही मरीज़ों के स्वास्थ्य की बेहतर देखभाल के लिए काउंसलिंग भी की जाती है। डॉ. साहू ने बताया कि सियान जतन क्लिनिक में इलाज के लिए आए बुजुर्गों का विस्तृत विवरण भी रखा जा रहा है। ताकि भविष्य में जरूरत पड़ने पर इन मरीजों का फॉलो-अप भी किया जा सके। नागरिकों का स्वास्थ्य बेहतर रहे और उन्हें किसी प्रकार की दिक्कतों का सामना न करना पड़े, इसके लिए कई स्तर पर काम हो रहा है।

आयुष द्वारा 4 अगस्त को आयोजित प्रदेश के दो आयुर्वेद चिकित्सा महाविद्यालयों के सियान जतन क्लिनिकों में 85, पांच जिला आयुर्वेद अस्पतालों में 253, स्पेशलाइज्ड थैरेपी सेंटर्स में 353, आयुष विंग्स में 242, आयुष पॉलीक्लीनिकों में 184, औषधालयों में 6317 तथा सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में संचालित सह-स्थापित आयुष केन्द्रों में 1862 बुजुर्गों का इलाज किया गया।

Chhattisgarh