Jun 02 2023 / 2:56 PM

भेंट-मुलाकात कार्यक्रम: मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल बलौदाबाजार विधानसभा के ग्राम सरोरा पहुंचे

Spread the love

मुख्यमंत्री ने छात्रों से साझा किये अपने छात्र जीवन के किस्से

श्री बघेल ने बताया- मुख्यमंत्री बनने का सपना कैसे पूरा कर सकते हैं

मुख्यमंत्री ने सरोरा में जनता को कई विकास कार्याें की दी सौगात

तिल्दा हॉस्पिटल में 50 बिस्तर के नये भवन के निर्माण की घोषणा

सरोरा से परसदा तक और सरोरा से बिनैका तक बनेगी पक्की सड़क

सांकरा से तिल्दा तक 12 किमी सड़क का होगा जीर्णोद्धार एवं चौड़ीकरण

कोहका कॉलेज में एमएससी साइंस ग्रुप एवं भूगोल की कक्षा होगी शुरू

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल प्रदेशव्यापी भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान आमजनता से संवाद कर योजनाओं की उन तक पहुंच जानने के साथ सुख-दुख और अपने अनुभव भी साझा कर रहे हैं। इस क्रम में श्री बघेल जब आज रायपुर जिले के अंतर्गत बलौदाबाजार विधानसभा के तिल्दा-नेवरा विकासखण्ड के ग्राम सरोरा पहंुचे, आम जनता ने उनसे रोचक सवाल किये। स्वामी आत्मानंद अंग्रजी माध्यम स्कूल तिल्दा-नेवरा के छात्र श्री मनीष धुरंधर ने मुख्यमंत्री से पूछा कि किसी राजनीतिक परिवार से संबंध नहीं रखने पर भी वह अपने मुख्यमंत्री बनने का सपना कैसे पूरा कर सकते हैं। इस पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने उनसे कहा कि सपने देखने चाहिए यह अच्छी बात है। राजनीति में आने के लिए सबसे पहले किसी विचारधारा से जुड़ना पड़ता है। विचारधारा से पहचान बनती है। उन्होंने कहा कि लोगों से जुड़े, सेवा की भावना बनाए रखे, तभी सपना पूरा होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में प्रश्न पूछने की अच्छी परंपरा है। जब सवाल पूछने का अधिकार मिलता है, सवाल-जवाब होता है तब समाज और देश आगे बढ़ता है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने छात्रों को दिया आत्मविश्वास का मंत्र
इसी तरह भेंट-मुलाकात के दौरान जब स्वामी आत्मानंद स्कूल की छात्रा श्रिया देवांगन ने मुख्यमंत्री श्री बघेल से उनके छात्र जीवन के दौरान प्रेरणात्मक घटना के बारे में पूछा। मुख्यमत्री ने अपने छात्र जीवन का किस्सा साझा करते हुए बताया कि उनके गांव से मिडिल स्कूल 5 किलोमीटर दूर था, वहां तक वह पैदल जाते थे। हाई स्कूल में उन्होंने गणित विषय लिया था लेकिन स्कूल में गणित के शिक्षक नहीं थे। इसके लिए उन्होंने आंदोलन किया। फिर खुद मेहनत कर पढ़ाई की और पास हुए। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि कुछ करना है तो खुद मेहनत करो। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने छात्रों को सफल होने के लिए आत्मविश्वास को बनाए रखने की बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि आत्मविश्वास से ही व्यक्ति आगे बढ़ता है। स्वामी विवेकानंद जी ने भी कहा था कि आधुनिक युग में नास्तिक वह है, जिसे खुद पर विश्वास नहीं। इसके साथ ही आत्मानंद स्कूल की छात्रा नेहा वर्मा की मांग पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने मेरिट में आने वाले छात्रों को हेलीकाप्टर की सवारी कराने की बात कही। इसी तरह मुख्यमंत्री के छत्तीसगढ़ी में प्रश्न के जवाब में राज वर्मा ने धाराप्रवाह अंग्रेजी बोलकर बताया कि अंग्रेजी स्कूल के खुलने से ग्रामीण छात्रों को अंग्रेजी माध्यम में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिल रही है। इसके अलावा कक्षा 3 की छात्रा काव्या ने अंग्रेजी में बात करते हुए मुख्यमंत्री से सरोरा में स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने की मांग रखी।

किसान हितैषी नीतियों से किसानों की संख्या और खेती का रकबा बढ़ा
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के सरोरा पहंुचने पर स्वागत में भारी संख्या में ग्रामीण जुटे। जनप्रतिनिधियों एवं आम जनता ने उनका उत्साहपूर्वक आत्मीय स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि लोगों को शासन की योजनाओं का लाभ मिल रहा है या नहीं यह जानने आपके बीच आया हूँ। राज्य सरकार की किसान हितैषी नीतियों से किसानों की संख्या और खेती का रकबा बढ़ा है। धान खरीदी में देश में छतीसगढ का पंजाब के बाद दूसरा स्थान है। अब तक 103 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की खरीदी हो गई है। छत्तीसगढ में लगभग 23 लाख किसान धान बेच कर लाभान्वित हुए है। धान खरीदी की सुचारू व्यवस्था के लिए धान खरीदी केंद्रों की संख्या बढ़ाई गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वन क्षेत्रों में वनवासियों को आय और रोजगार के साधन उपलब्ध कराने 65 प्रकार की लघु वनोपज की खरीदी की जा रही है। उन्होंने बताया कि किसानों को राजीव गांधी किसान न्याय योजना की चौथी किस्त 31 मार्च को मिलेगी।

आईटीआई केंद्र में नए ट्रेड खोले जाएंगे
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि सरकार का मुख्य उद्देश्य आमजनों की आय में वृद्धि करना है। गोपालकों को गोधन न्याय योजना से, गौठानों में संचालित योजनओं से महिलाओं की आय बढ़ी है। किसान, मजदूर और महिलाओं के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही है। गोबर से प्राकृतिक पेंट बनाया जा रहा है। राज्य में आई टी आई के उन्नयन हेतु 1200 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है, ताकि वहां ट्रेडों की संख्या बढ़े और युवाओं को सुगमता से रोजगार उपलब्ध हो सके। आगे भी स्कूलों की मरम्मत,रंग रोगन और नए भवन का निर्माण किया जाएगा। आईटीआई केंद्र में नए ट्रेड खोले जाएंगे।

सरोरा में घोषणाएं-
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने ग्राम सरोरा में कई विकास कार्यों की घोषणाएं की। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरोरा स्वास्थ्य केंद्र में संचालित 01 बिस्तर हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में 03 अतिरिक्त बिस्तरों की स्वीकृति दी जायेगी। तिल्दा हॉस्पिटल के मातृ एवं शिशु कल्याण वार्ड के लिये 50 बिस्तर के नये भवन का निर्माण करवाया जायेगा। सरोरा से परसदा तक और सरोरा से बिनैका तक पक्की सड़क बनाई जायेगी। एनएच मार्ग सांकरा से तिल्दा तक 12 किमी सड़क का जीर्णोद्धार एवं चौड़ीकरण करवाया जायेगा। जोता से भुरसुदा रोन रनबोर मेला स्थल रोड का निर्माण किया जायेगा। इसके साथ ही उन्होंने सदमावा-कोटा मार्ग निर्माण की घोषणा की। सासाहोली हाई स्कूल का उन्नयन कर हायर सेकेंडरी बनाने और ताराशिव में हायर सेकेण्डरी स्कूल की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि तिल्दा बस्ती वार्ड नंबर 19 के बड़े तालाब का सौंदर्यीकरण, गहरीकरण एवं पचरी निर्माण का कार्य करवाया जायेगा। कोहका कॉलेज तिल्दा नेवरा में एमएससी साइंस ग्रुप एवं कला संकाय में भूगोल की कक्षा प्रारंभ की जायेगी। इसके साथ ही उन्होंने निनवा साहू समाज के लिए 5 लाख रूपए, तरपोंगी रंगमंच हाई स्कूल के लिए 10 लाख रूपए और खम्हरिया में मिडिल स्कूल की घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री का जनता से संवाद
मुख्यमंत्री श्री बघेल से बात करते हुए खमरिया के किसान श्री नेमसिंग ने बताया की उनके पास 45 एकड़ खेती है। उनका 4.25 लाख रुपए का कर्ज माफ हुआ है। घर खर्च के बाद उन्होंने बोर खनन कराया। उन्होंने खेती की कमाई से ट्रैक्टर और कार लेने के साथ बहु और पत्नी के लिए गहने भी खरीदे। इसी तरह सरोरा के किसान श्री धन्नू लाल चतुर्वेदी ने बताया कि उनका 1 लाख 20 हजार रूपए का कर्ज माफ हुआ है। नेवरा निवासी श्री शरद वर्मा ने बताया कि वे उनका 30 हजार का कर्ज माफ हुआ। इसके साथ उन्होंने मुख्यमंत्री श्री बघेल से नेवरा में सिटी बस चालू करने की मांग की।

मुख्यमंत्री श्री बघेल से लोकेश कुमार नेताम ने अपने पिताजी के स्वास्थ्य लाभ के लिए इलाज की मांग की। इस पर मुख्यमंत्री ने इलाज की व्यवस्था कराने की बात कही। उन्होंने बताया कि विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना में इलाज के लिए 20 लाख रुपए तक की सहायता दी जाती है। ग्राम सरोरा की कुंती यादव ने अपने दिव्यांग बच्चे के लिए निःशक्तजन पेंशन और दिव्यांगों को दी जाने वाली सुविधाओं को दिलाने की मांग की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को बच्चे का नाम नोट कर लाभ दिलाने के निर्देश दिए।

मोहदा गांव की परमेश्वरी ने बताया कि उन्हें राशन का समान मिलता है। साथ ही उसने मुख्यमंत्री श्री बघेल को छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेल के शुरू करने पर बधाई देते हुए गांव में खेल मैदान की मांग की। ग्राम चिचोली की राही साहू ने बताया की उन्होंने अभी तक एक लाख रुपए का गोबर बेचा है। बाड़ी से भी एक लाख रुपए की कमाई की। इससे उन्होंने घर बनाया। हाट बाजार क्लिनिक योजना की हितग्राही संगीता वर्मा ने मुख्यमंत्री को दादा बनने पर बधाई दी। उन्होंने बताया कि वे हाट बाजार क्लिनिक में इलाज कराने जाती हैं। मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात में लोगों से हाट-बाजार क्लीनिक योजना सहित राज्य सरकार की अन्य योजनाओं का लाभ उठाने का आग्रह किया।

Chhattisgarh