Aug 13 2022 / 6:29 AM

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने केंवची में आम जनता से की भेंट-मुलाकात





Spread the love

बैगा आदिवासियों ने कौड़ी की माला पहनाकर मुख्यमंत्री का किया स्वागत

हितग्राहियों को शासकीय योजनाओं के तहत चेक एवं सामग्री वितरित

क्षेत्र के विकास के लिए अनेक निर्माण कार्यों की दी स्वीकृति

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले के ग्राम केंवची में आयोजित भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में शामिल हुये। उन्होंने स्थानीय ग्रामीणों और किसानों से राज्य सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन का फीडबैक लिया। उन्होंने स्थानीय विधायक डॉ. के.के.धु्रव की मांग पर ग्रामीण विकास एवं जन सुविधाओं के लिए अनेक घोषणाएं की। श्री बघेल के केंवची पहुंचने पर बैगा आदिवासियों द्वारा अपनी परम्परा के अनुरूप माहुल पत्ते से बनी खुमरी पहनाई और उनके गले में कौड़ी की माला पहनाई एवं तीर-धनुष भेंटकर स्वागत किया।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने ग्रामीणों से रू-ब-रू होकर राज्य सरकार की योजनाओं जैसे गोधन न्याय, वनोपज खरीदी, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, वन अधिकार पट्टा आदि योजनाओं का लाभ मिल रहा है अथवा नहीं इसकी जानकारी ली। उपस्थित सभी लोगों ने हाथ उठाकर अपनी सहमति दी और बताया कि इसका लाभ उठाकर काफी आमदनी अर्जित कर रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस मौके पर राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत हितग्राहियों को चेक एवं सामग्री वितरित किये। उन्होंने 17 बैगा आदिवासियों को वन अधिकार पत्र भी सौंपे। खेती-किसानी के मौसम को देखते हुए श्री बघेल ने आदिवासी किसानों को बीज भी वितरित किये।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने धनौली गौठान की सफलता की सराहना की। महिला समूह एवं समिति यहां अच्छा काम कर रही हैं। प्रतिदिन सवेरे 9 बजे बैठक लेकर दिन-भर की कार्य-योजना बनाकर उस पर काम करते है। मुख्यमंत्री ने इस तरह की गौठान पूरे जिले में तैयार करने के निर्देश दिये। श्री बघेल ने सरकार विभिन्न योजनाओं की मदद से लोगों को मदद कर रही है, लेकिन काम लोगों को करना होगा। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि कोदो-कुटकी की खेती में सरकार 10 हजार रूपये प्रति एकड़ अनुदान दे रही है। इसकी उपज को समर्थन मूल्य पर खरीदी कर रही है। भांठा-टिकरा जमीन पर भी अच्छी कोदो की फसल होती है। श्री बघेल ने छोटेलाल बैगा द्वारा वन अधिकार पट्टे की मांग किये जाने पर परीक्षण कर आवश्यक कार्रवाई के निर्देश कलेक्टर को दिये। श्री बघेल ने बताया कि राज्य सरकार ने बैगा सहित सभी प्रिमिटिव्ह जनजाति के शिक्षित बेरोजगार युवाओं के लिए सरकारी नौकरी का द्वार खोल दिये है। करीब 9 हजार 623 पदों पर सीधी भर्ती की प्रक्रिया शुरू की जा रही है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने विधायक डॉ.के.के.धु्रव की मांग पर केंवची में सामुदायिक भवन, केंवची से ठाड़पथरा तक पक्की सड़क निर्माण, ठाड़पथरा में बिजली की व्यवस्था, चुगतीपानी में बाजारडांड से आमाडांड तक पहुंच मार्ग के लिए पुलिया निर्माण, साल्हेघोरी से चार कछार तक सड़क निर्माण की स्वीकृति का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री ने जिन इलाकों में नलकूप असफल हो रहे हैं, उन क्षेत्रों में कुआं निर्माण की घोषणा भी की है। बताया गया कि धरती के नीचे की चट्टान धसक जाने के कारण ट्यूबवेल असफल हो जा रहे हैं। सभा को स्थानीय विधायक डॉ. के.के. धु्रव ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री अरुण सिंह चौहान सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण इस मौके पर उपस्थित थे।

Chhattisgarh