Nov 27 2022 / 3:32 AM

रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी ने नाथद्वारा में शुरू की 5G सर्विस

Spread the love

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम ऑपरेटर कंपनी रिलायंस जियो ने राजस्थान के नाथद्वारा में 5जी सेवाओं की आज से शुरुआत कर दी है। रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी ने राजसमंद के प्रसिद्ध श्रीनाथजी मंदिर से राजस्थान में सेवाओं की शुरुआत की है। इस साल रिलायंस जियो का लक्ष्य दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई जैसे प्रमुख शहरों में 5G सेवाएं शुरू करना है।

रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने 29 अगस्त को भारत में 5जी लॉन्च की घोषणा करते हुए कहा कि हमारा इरादा 2023 के दिसंबर तक देश भर के प्रत्येक शहर, तहसील और तालुका में अपने 5G नेटवर्क का विस्तार करने का है। बता दें कि इस साल की शुरुआत में रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने रिलायंस जियो के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद उन्होंने ये पद अपने बड़े बेटे आकाश अंबानी को सौंप दिया था।

कंपनी के मुताबिक, 5जी इंफ्रास्ट्रक्चर में 2 लाख करोड़ रुपये के निवेश का अनुमान है। छह साल पहले लॉन्च किए गए Jio ने सबसे कम समय में सबसे बड़े 4G नेटवर्क में कई विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं। Jio का 4G नेटवर्क 400 मिलियन से अधिक ग्राहकों को हाई क्वालिटी और सबसे सस्ती डिजिटल सेवाएं प्रदान करता है। उम्मीद की जा रही है कि Jio अब अपनी 5G सेवाओं के साथ बार को और भी बढ़ा सकता है।

Reliance Jio Infocomm ने दूरसंचार विभाग द्वारा हाल ही में संपन्न 5G नीलामियों में 700MHz, 800MHz, 1800MHz, 3300MHz और 26GHz बैंड में स्पेक्ट्रम हासिल किया है, जहां सरकार को लगभग 1.5 लाख रुपये की बोलियाँ मिलीं। स्पेक्ट्रम नीलामी में रिलायंस जियो, अदानी समूह, भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया चार प्रमुख भागीदार थे।

बता दें कि 5जी लॉन्च होने के बाद दूरसंचार विभाग और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय मोबाइल फोन निर्माताओं और दूरसंचार ऑपरेटरों को उपकरणों में 5जी से संबंधित सॉफ्टवेयर को अपडेट करने को कहा है। 5G पांचवीं पीढ़ी का मोबाइल नेटवर्क है जो बहुत तेज गति से डेटा को प्रसारित करने में सक्षम है। 3G और 4G की तुलना में 5G विभिन्न क्षेत्रों में उपयोगकर्ता के अनुभव को बढ़ाएगी।

Chhattisgarh