Aug 13 2022 / 5:26 AM

शिंदे सरकार ने जीता विश्वास मत, पक्ष में 164





Spread the love

मुंबई। महाराष्ट्र की एकनाथ शिंदे सरकार ने फ्लोर टेस्ट में अपना बहुमत साबित कर दिया है। इस बीच शिवसेना के एक और विधायक संजय बांगर ने भी पाला बदल लिया है और उन्होंने शिंदे सरकार के पक्ष में वोटिंग की। बहुमत परीक्षण की ये प्रक्रिया हेड-काउंट के जरिए पूरी की गई। एकनाथ शिंदे की अगुवाई में शिवसेना-बीजेपी सरकार ने आसानी से 144 का आंकड़ा हासिल कर लिया। एकनाथ शिंदे की सरकार के पक्ष में स्पष्ट बहुमत रहा और दावे के मुताबिक ही एकनाथ शिंदे सरकार की सरकार ने बहुमत साबित कर दिया।

एकनाथ शिंदे की सरकार के पक्ष में 164 वोट पड़े हैं। विधानसभा में जिस समय बहुमत परीक्षण चल रहा था, पूरे सदन में ‘जय श्री राम’ के नारे गूंज रहे थे। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने विधायकों के नाम और नंबर लिखवाए। जब तक वोटों की गिनती खत्म हुई, तब तक एकनाथ शिंदे की सरकार जरूरी 144 मतों से कहीं आगे निकल चुकी थी। वोटिंग में महाराष्ट्र विकास आघाडी के 8 विधायक वोटिंग में हिस्सा ही नहीं ले पाए। जिसमें से दो विधायक जेल में बंद हैं।

बता दें कि रविवार को महाराष्ट्र असेंबली के अध्यक्ष पद पर चुनाव हुआ था, जिसमें राहुल नार्वेकर को अध्यक्ष चुना गया था। उनके पक्ष में कुल 164 वोट पड़े थे, जबकि विपक्ष के साथ 103 विधायकों का ही समर्थन रहा। इस बीच कई विधायकों ने वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया था। राहुल नार्वेकर ने विधानसभा अध्यक्ष बनने के बाद एकनाथ शिंदे को शिवसेना के विधायक दल के नेता की मान्यता दे दी। इसी के साथ अब शिवसेना के अधिकतर विधायक शिंदे के पक्ष में खड़े दिखने लगे हैं।

Chhattisgarh