Feb 06 2023 / 3:37 PM

राहुल गांधी का RSS पर निशाना, कहा- 21वीं सदी के कौरव खाकी हाफ पैंट पहनते हैं

Spread the love

अंबाला। इस समय राहुल गाँधी के नेतृत्व वाली भारत जोड़ो यात्रा अपने अंतिम चरण में चल रही है। जहां आज यानी सोमवार को उनकी यह यात्रा हरियाणा के अंबाला पहुंची है। आज राहुल गाँधी ने धर्म क्षेत्र कहलाने वाले कुरुक्षेत्र से अपनी यात्रा की शुरुआत की थी। इस बीच उन्होंने किसान नेता राकेश टिकैत से भी मुलाकात की थी। इसी बीच उन्होंने अंबाला के मोहड़ा में एक नुक्कड़ सभा को संबोधित किया। इस दौरान राहुल गाँधी ने आरएसएस वालों को घेरते हुए उनकी तुलना कौरवों से की।

आरएसएस का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने पूछा, कौरव कौन थे? मैं आपको सबसे पहले 21वीं सदी के कौरवों के बारे में बताऊंगा, वे खाकी हाफ पैंट पहनते हैं, वे हाथ में लाठी रखते हैं। भारत के 2-3 अरबपति कौरवों के साथ खड़े हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि क्या पांडवों ने नोटबंदी की, गलत जीएसटी लागू किया? क्या उन्होंने कभी ऐसा किया होगा? कभी नहीं। क्यों? क्योंकि वे तपस्वी थे और वे जानते थे कि नोटबंदी, गलत जीएसटी, कृषि कानून तपस्वियों से इस जमीन को चुराने का एक तरीका है… (प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी ने इन फैसलों पर दस्तखत जरूर किए, लेकिन इसके पीछे भारत के 2-3 अरबपतियों की ताकत थी, आप माने या न माने।

राहुल गांधी ने कहा कि लोग इसे नहीं समझते हैं, लेकिन जो लड़ाई उस समय थी, वह आज भी वही है। यह लड़ाई किसके बीच है? पांडव कौन थे? अर्जुन, भीम वे तपस्या करते थे। उन्होंने सभा से पूछा कि क्या उन्होंने पांडवों द्वारा इस भूमि पर नफरत फैलाने और एक निर्दोष व्यक्ति के खिलाफ कोई अपराध करने के बारे में सुना है।

राहुल ने कहा कि एक ओर ये पांच तपस्वी थे और दूसरी ओर एक भीड़ भरा संगठन था। पांडवों के साथ, सभी धर्मों के लोग थे। इस (भारत जोड़ो) यात्रा की तरह, कोई किसी से नहीं पूछता कि वह कहां से आता है। राहुल गांधी ने कहा कि पांडव भी अन्याय के खिलाफ खड़े हुए थे, उन्होंने भी नफरत के बाजार में मुहब्बत की दुकान खोली थी।

Chhattisgarh