Nov 27 2022 / 4:37 AM

कांग्रेस अध्यक्ष पद के प्रत्याशियों पर बोले राहुल गांधी- दोनों नेता योग्य रिमोट कंट्रोल कहना अपमान

Spread the love

नई दिल्ली। कांग्रेस की भारत जोड़ा यात्रा जारी है। इस यात्रा के तहत कर्नाटक पहुंचे राहुल गांधी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मीडिया के सवालों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि देश में नफरत के लिए भाजपा और आरएसएस जिम्मेदार है। भाजपा नफरत फैलाकर देश को बांटने का काम कर रही है।

राहुल गांधी ने मीडिया से बातचीत में कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर मल्लिकार्जुन खड़गे और शशि थरूर की उम्मीदवारी पर चर्चा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि ये दोनों कद्दावर नेता हैं। उनकी अपनी समझ है। इन्हें रिमोट कंट्रोल कहना बड़ा अपमान होगा।

हाल ही में पीएफआई पर पाबंदी से जुड़े सवाल को लेकर राहुल गांधी का कहना है कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि नफरत को फैलाने वाल शख्स कौन है, वह कहा से आता है। नफरत और हिंसा को फैलाना एक राष्ट्र विरोधी काम है। हम इस तरह के लोगों के खिलाफ लड़ाई करेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा देश को तोड़ने में लगी है, वहीं कांग्रेस जोड़ने में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि भाजपा देश को बांटने में लगी है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि आरएसएस ने अंग्रेजों की मदद की थी। अंग्रेजो ने सावरकर को वजीफा दिया था। भारत की आजादी में आरएसएस कही नहीं दिखती। कांग्रेस और उसके नेताओं ने आजादी को लेकर लड़ाई लड़ी। उन्होंने कहा कि आजादी को लेकर कांग्रेस नेता जेल भी गए। उन्होंने कहा कि हम नई शिक्षा नीति का विरोध करते हैं। यह हमारे इतिहास को विकृत करती है। हम विकेंद्रीकरण शिक्षा प्रणाली चाहते हैं। यह हमारी संस्कृति को दर्शाती है। उन्होंने कहा कि देश बेरोजगारी के चरम पर है।

Chhattisgarh