Oct 06 2022 / 11:52 PM

‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर बोले राहुल गांधी- मेरे साथ कोई चले, ना चले, मैं अकेला चलूंगा

Spread the love

नई दिल्ली। पार्टी के आस्तिव को बचाने के लिए अब कांग्रेस ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की शुरुआत करने जा रही है। कांग्रेस पार्टी 7 सितंबर से इस अभियान की शुरुआत करने जा रही है। इस अभियान में कांग्रेस के दिग्गज नेता और कार्यकर्ता शामिल होंगे। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक की यह यात्रा करीब 5 महीने में पूरी होगी।

खास बात ये है कि ये यात्रा पूरी पदयात्रा होगी। यात्रा के दौरान कांग्रेस चुनावी राज्यों पर ज्यादा फोकस करेगी। इसके साथ ही कांग्रेस पार्टी भारत जोड़ो यात्रा को साल 2024 लोकसभा चुनाव के लिए देशव्यापी जनसपंर्क अभियान के तौर पर देख रही है।

इसी बीच कांग्रेस ने सोमवार को दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में अपनी प्रस्तावित भारत जोड़ो यात्रा को लेकर सिविल सोसाइटी के सदस्यों के साथ बैठक की। बैठक में पूंछे गए सवालों का जवाब देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि नफरत करने वालों और देश में विभाजन फैलाने वालों के अलावा भारत जोड़ो यात्रा में सबका स्वागत है।

राहुल गांधी के साथ बैठक में मौजूद सिविल सोसायटी के लोगों ने करीब डेढ़ घंटे सवाल जवाब किए। सूत्रों के मुताबिक एक सवाल का जवाब देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मेरे साथ कोई चले या ना चले मैं अकेला चलूंगा। राहुल गांधी ने देश के अलग-अलग राज्यों से आए लोगों से कहा कि सिविल सोसायटी को भी कांग्रेस के साथ अपने संबंधों पर पुनर्विचार करना चाहिए।

सूत्रों ने बताया की राहुल गांधी ने आगे कहा कि आज देश की राजनीति पोलोराइज हो गई है। हम अपनी यात्रा में बताएंगे कि कैसे एक तरफ संघ की विचारधारा है और दूसरी तरफ हम लोगों की सबको साथ जोड़ने की विचारधारा है। हम इस विश्वास को लेकर यात्रा शुरू कर रहे हैं, कि भारत के लोग तोड़ने की नहीं जोड़ने की राजनीति चाहते हैं।

बैठक के बाद कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने मीडिया से बातचीत में बताया कि राहुल गांधी से 30-40 सवाल किए गए और उन्होंने सभी का जवाब दिया। कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा राजनीति से प्रेरित नहीं है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने तीन मुख्य बिंदु बताए हैं। इनमें आर्थिक चुनौतियां, राजनीतिक चुनौतियां और सामाजिक चुनौतियां शामिल हैं, जिनसे आज देश जूझ रहा है। इसी को लेकर सभी लोग जो संविधान को मानते हैं, उनसे इस यात्रा में जुड़ने की अपील की गई है।

गौरतलब है कि कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा सितंबर में शुरू हो रही है। कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक ये यात्रा होगी। लगभग 12 राज्यों से होकर गुजरने वाली यह यात्रा 3500 किलोमीटर का सफर तय करेगी। इस दौरान कांग्रेस विभिन्न राज्यों में कई पदयात्राएं और रैलियां भी करेगी।

Chhattisgarh