Feb 29 2024 / 8:33 PM

पीएम मोदी ने लॉन्च की विश्वकर्मा योजना, बोले- भारत अब रुकने वाला नहीं है

Spread the love

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपना 73वां जन्मदिन मना रहे हैं। वहीं, आज विश्वकर्मा जयंती भी है, तो इस खास मौके पर पीएम मोदी विश्वकर्मा योजना की शुरुआत की। विश्‍वकर्मा योजना के शुभारंभ के मौके पर पीएम मोदी ने कहा की निकट भविष्य में, प्रशिक्षण, प्रौद्योगिकी और उपकरण बहुत आवश्यक होंगे। पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत, सरकार ने विश्वकर्मा भागीदारों को विशेष प्रशिक्षण प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित किया है।

पीएम मोदी ने कहा कि, आज विश्वकर्मा जयंती है। यह दिन देश के कारीगरों और शिल्पकारों को समर्पित है। मैं विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर देश के लोगों को शुभकामनाएं देना चाहता हूं। मुझे खुशी है कि आज मुझे हमारे विश्वकर्मा सदस्यों से जुड़ने का अवसर मिला। पीएम विश्वकर्मा योजना आज शुरू की गई है जो कलाकारों और शिल्पकारों के लिए आशा की किरण बनकर उभरेगी।

पीएम मोदी ने विश्वकर्मा योजना के शुभारंभ पर कहा की आज देश को इंटरनेशनल एग्जीबिशन सेंटर यशोभूमि मिल गया है। जिस तरह का काम यहां हुआ है, वो मेरे विश्वकर्मा भाइयों की तपस्या को प्रदर्शित करता है। मैं देश के हर विश्वकर्मा को ये सेंटर देने की घोषणा करता हूं। यह विश्वकर्माओं के लिए मददगार होने वाला है। भारतीय कला और हस्तशिल्प को वैश्विक स्तर तक पहुंचाने के लिए यह एक जीवंत केंद्र होगा। स्थानीय उत्पादों को वैश्विक बनाने में यह बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा। जिस तरह से रीढ़ की हड्डी है हमारे शरीर के लिए आवश्यक हैं, और हमारे विश्वकर्मा समाज के लिए आवश्यक हैं। उनके बिना रोजमर्रा की जिंदगी अकल्पनीय है।

पीएम मोदी ने कहा कि, आज समय की मांग है कि हम अपने विश्वकर्मा साथियों को पहचानें और उनका हरसंभव समर्थन करें। हमारी सरकार हमारे विश्वकर्मा साथियों के विकास के लिए काम कर रही है। इस योजना के तहत 18 अलग-अलग क्षेत्रों के तहत काम करने वाले विश्वकर्मा भागीदारों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा सरकार पीएम विश्वकर्मा योजना पर 13,000 करोड़ रुपये खर्च करने जा रही है।

पीएम मोदी ने कहा की विश्वकर्मा योजना के तहत, सरकार बिना किसी (बैंक) गारंटी के 3 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान करेगी। यह भी सुनिश्चित किया गया है कि ब्याज दर भी बहुत कम हो। सरकार ने फैसला किया है कि 1 लाख रुपये शुरुआत में ऋण दिया जाएगा और जब इसे चुकाया जाएगा, तो सरकार विश्वकर्मा भागीदारों को अतिरिक्त 2 लाख रुपये का ऋण प्रदान करेगी।

पीएम मोदी ने कहा की प्रशिक्षण के दौरान आपको 500 रुपये प्रदान किए जाएंगे। 1,500 रुपये का टूलकिट वाउचर दिया जायेगा। सरकार आपके द्वारा बनाए गए उत्पादों की ब्रांडिंग, पैकेजिंग और मार्केटिंग में भी मदद करेगी। बदले में, सरकार चाहती है कि आप उन दुकानों से टूलकिट खरीदें जो केवल जीएसटी पंजीकृत हैं।

Chhattisgarh