Feb 05 2023 / 3:31 PM

संविधान दिवस पर पीएम मोदी ने ई-कोर्ट परियोजना का किया शुभारंभ

Spread the love

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शनिवार को सुप्रीम कोर्ट में संविधान दिवस समारोह में हिस्सा लिया। इस दौरान इस दौरान ई-कोर्ट परियोजना के तहत विभिन्न नई पहलों और वेबसाइट का उद्घाटन किया। इसके साथ ही उन्होंने यहां आयोजित सभा को संबोधित किया।

पीएम मोदी ने कहा कि आज पूरी दुनिया की नजर भारत पर है। भारत को लेकर दुनिया उम्मीद भरी नजरों से देख रही है। हमारी शक्ति देख कर दुनिया हैरान है। पीएम मोदी ने कहा कि इन सबके पीछे, हमारी सबसे बड़ी ताकत हमारा संविधान है। पीएम मोदी ने संविधान की भावना का वर्णन किया।

पीएम मोदी ने महाभारत का भी जिक्र किया और श्लोक सुनाते हुए कहा कि नागरिकों को सुखी रखना, सच्चाई के साथ खड़े होना और सरल व्यवहार यही राज्य का व्यवहार होना चाहिए। आधुनिक संदर्भ में भारत के संविधान ने देश की सभी सांस्कृतिक भावनाओं को समाहित किया। मुझे खुशी है कि देश मदर ऑफ डेमोक्रेसी के रूप में संविधान की भावना को लगातार मजबूत कर रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया भारत को बहुत उम्मीदों से देख रही है, एक ऐसा देश जिसके बारे में आशंका जताई जाती थी कि वे (भारत) अपनी आज़ादी बरकरार नहीं रख पाएगा। आज वही देश पूरी सामर्थ्य से अपनी सभी विविधताओं पर गर्व करते हुए यह देश आगे बढ़ रहा है। हमारे संविधान निर्माताओं ने हमें एक ऐसा संविधान दिया है, जो ओपेन व फ्यूचरिस्टिक है और अपने आधुनिक विजन के लिए जाना जाता है। इसलिए स्वाभाविक तौर पर हमारे संविधान की स्पिरिट यूथ सेंट्रिक है।

पीएम मोदी ने कहा कि 1949 में यह आज का ही दिन था जब स्वतंत्र भारत ने अपने लिए एक नई भविष्य की नीव डाली थी, इस बार का संविधान दिवस इसलिए भी विशेष है क्योंकि भारत ने अपने आज़ादी के 75 वर्ष पूरे किए हैं।

पीएम मोदी कहा कि आज 26/11 मुंबई आतंकी हमले का दिन भी है, 14 वर्ष पहले जब भारत अपना संविधान दिवस मना रहा था तब उसी दिन मानवता के दुश्मनों ने सबसे बड़ा हमला किया, मुंबई आतंकी हमले में जिनकी मृत्यु हुई मैं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

संविधान दिवस पर आयोजित समारोह के दौरान प्रधानमंत्री ई-कोर्ट परियोजना के तहत कई नई पहल का शुभारंभ किया। ये परियोजना अदालतों की आईसीटी सक्षमता के माध्यम से वादियों, वकीलों और न्यायपालिका को सेवाएं प्रदान करने का एक प्रयास है। प्रधानमंत्री द्वारा शुरू किए जाने वाली पहल में वर्चुअल जस्टिस क्लॉक, जस्टआईएस मोबाइल ऐप 2.0, डिजिटल कोर्ट और एस3डब्ल्यूएएएस वेबसाइट्स शामिल हैं।

Chhattisgarh