Dec 12 2023 / 12:59 AM

पीएम मोदी ने रोजगार मेले के तहत 51 हजार युवाओं को बांटे नियुक्ति पत्र

Spread the love

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को रोजगार मेले के तहत सरकारी विभागों और संगठनों में नवनियुक्त भर्तियों को 51,000 से अधिक नियुक्ति पत्र वितरित कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि युवा शक्ति जितनी ज्यादा मजबूत होगी, देश उतना ज्यादा विकास करेगा।

देश के अलग-अलग राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में आयोजित होने वाले रोजगार मेले को युवाओं के प्रति अपनी सरकार की प्रतिबद्धता का प्रमाण बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार युवाओं के भविष्य को ध्यान में रखकर मिशन मोड में काम कर रही है। सरकार न सिर्फ रोजगार दे रही है बल्कि पूरे सिस्टम को पारदर्शी भी बनाए हुए हैं। जिससे नियुक्ति प्रक्रिया पर युवाओं का भरोसा बना हुआ है। पीएम मोदी ने कहा कि युवा शक्ति जितनी ज्यादा मजबूत होगी, देश उतना ज्यादा विकास करेगा। आज भारत अपने युवाओं को स्किलिंग और शिक्षा से नए अवसरों का लाभ उठाने के लिए तैयार कर रहा है।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि रोजगार मेले की ये यात्रा इस महीने एक महत्वपूर्ण पड़ाव पर पहुंची है। पिछले वर्ष अक्टूबर महीनें में ही रोजगार मेले की शुरुआत हुई थी। तबसे, निरंतर केंद्र शासित और भाजपा शासित राज्यों में रोजगार मेले का आयोजन लगातार किया जा रहा है। अब तक लाखों युवाओं को सरकारी नौकरी के नियुक्ति पत्र दिए जा चुके हैं। आज भी 50 हजार से ज्यादा युवाओं को सरकारी नौकरी दी गई है। दिवाली में अभी कुछ समय बाकी है, लेकिन नियुक्ति पत्र पाने वाले 50 हजार युवाओं के परिवार के लिए ये मौका दिवाली से जरा भी कम नहीं है।

उन्होंने कहा कि आज भारत जिस दिशा में आगे बढ़ रहा है, जिस तेजी से आगे बढ़ रहा है, उससे हर सेक्टर में रोजगार के नए अवसर तैयार हो रहे हैं। कुछ ही दिन पहले गुजरात के कच्छ जिले में पाकिस्तान की सीमा पर स्थित गांव धोरडो को संयुक्त राष्ट्र ने बेस्ट टूरिज्म विलेज के रूप में सम्मानित किया है। पहले कर्नाटक के होयसला मंदिरों और पश्चिम बंगाल के शांति निकेतन को वर्ल्ड हेरिटेज साइट की पहचान मिली है। आप कल्पना कर सकते हैं कि इससे यहां पर्यटन की संभावना और अर्थव्यवस्था के विस्तार की संभावना कितनी बढ़ गई है।

पीएम मोदी ने दावा किया कि भविष्य की आधुनिक जरूरतों को देखते हुए देश में आधुनिक राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू की जा रही है। देश में बड़ी संख्या में नए मेडिकल कॉलेज, आईआईटी, आईआईएम जैसे कौशल विकास संस्थान खोले जा रहे हैं। करोड़ों युवाओं को प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षण दिया गया है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में करोड़ो कारीगर अपने पारंपरिक व्यवसायों के माध्यम से आजीविका चलाते हैं, ऐसे विश्वकर्मा कारीगरों के लिए भी पीएम विश्वकर्मा योजना प्रारंभ की गई है।

Chhattisgarh