Feb 06 2023 / 1:57 PM

जहरीली शराब से हुई मौतों पर बोले नीतीश कुमार- शराब पीनेवालों से कोई सहानुभूति नहीं, मुआवजा नहीं देंगे

Spread the love

नई दिल्ली। बिहार के छपरा जिले में जहरीली शराब पीने से अब तक 57 लोगों की मौत हो चुकी है। इसको लेकर शुक्रवार को बिहार विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज फिर कहा कि जो शराब पीएगा वो मरेगा और उन्हें मुआवजा देने का कोई सवाल ही नहीं पैदा होता है। उन्होंने कहा कि शराब पीनेवालों से किसी को कोई सहानुभूति नहीं होनी चाहिए। वहीं, विधानसभा में आज भी विपक्षी दल ने जमकर हंगामा किया जिसके चलते सदन की कार्यवाही स्थगति करनी पड़ी। बीजेपी के विधायकों ने राजभवन तक मार्च किया।

नीतीश कुमार ने कहा कि शराब पीकर मृत्यु पर हम उसे सहायता राशि देंगे? ये सवाल ही नहीं पैदा होता… इसलिए यह बातें सही नहीं है। जब हम संसद का चुनाव लड़ते थे तब पार्टियां हमारे साथ नहीं थी फिर भी CPI-CPM के लोग हमारा साथ देते थे।

उन्होंने कहा कि भाई लोग (विपक्ष) तो सबसे ज्यादा ऐसे ही काम कर रहे हैं। लोगों में लड़ाई करा रहे हैं। ताकि कुछ मिल जाए। नीतीश कुमार ने कहा कि गुजरात में कुछ दिन पहले पुल गिरा। कितने लोग मरे, लेकिन खबरों में कितने आया। बस एक दिन आया। इसके बाद बंगाल में जो हुआ वो भी कहीं नहीं छपा, लेकिन बिहार में जो हुआ वो खूब चर्चा है।

नीतीश कुमार सदन में बोले कि इसका तो हम और ज्यादा प्रचार करेंगे। कहेंगे कि देखो, शराब पीया तो मरा। उन्होंने साफ-साफ कहा कि दारू पीकर कोई मर जाए तो क्या हम उसे कम्पन्सेशन देंगे? बिल्कुल नहीं देंगे। सवाल ही नहीं उठता। फिर उन्होंने विपक्ष से कहा कि अगर यही करना है कि सब मिलकर तय कर लीजिए। खूब कहिए कि शराब पीओ। इसलिए ये बस बात ठीक नहीं है। शराब पीएगा, गड़बड़ पीएगा तो मरेगा।

उन्होंने सदन में विपक्ष के सामने साफ किया कि कभी किसी गलत चीज पर मत सोचिए। हम शराब के खिलाफ हैं। कोई गंदा शराब पीकर मर जाए तो उसके साथ कोई सहानुभूति नहीं होनी चाहिए। बल्कि उसके खिलाफ प्रचार करना चाहिए। गरीब तबके में जाकर कहें कि शराब मत पीओ। सरकार आपके लिए काम कर रही है। आप काम करो।

Chhattisgarh