Aug 19 2022 / 8:15 AM

पंचतत्व में विलीन हुईं मुलायम सिंह की पत्नी साधना गुप्ता, बेटे प्रतीक ने दी मुखाग्नि





Spread the love

लखनऊ। पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की पत्नी साधना गुप्ता का अंतिम संस्कार आज रविवार को कर दिया गया है। साधना गुप्ता का अंतिम संस्कार उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के पिपरा घाट पर किया गया। यहां उनके बेटे प्रतीक यादव ने मुखाग्नि दी। बता दें कि इस दौरान सपा संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के साथ अखिलेश यादव, शिवपाल यादव और रामगोपाल यादव मौजूद रहे।

बता दें कि बीते दिन मुलायम सिंह यादव साधना गुप्ता का गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में लंबी बीमारी के चलते निधन हो गया। उनका पार्थिव शरीर लखनऊ में उनके आवास पर रखा गया था। जिसका अंतिम दर्शन करने के लिए समाजवादी पार्टी के नेताओं के अलावा अन्य पार्टियों के नेताओं मौजूद थे। पत्नी साधना गुप्ता के अंतिम संस्कार के दौरान सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबीयत खराब हो गई। जिसके कारण वो गाड़ी में ही बैठे रहे।

मुलायम सिंह यादव की पहली पत्नी और अखिलेश यादव की मां मालती देवी का साल 2003 में ही निधन हो गया था। मालती देवी के निधन के बाद मुलायम सिंह यादव ने साधना गुप्ता को पत्नी का दर्जा दिया था। साधना गुप्ता साल 2020 में कोरोना संक्रमित हो गई थी। जिसके बाद उनको लंग इन्फेक्शन की शिकायत हो गई थी। कोरोना काल से ही वह लंग इन्फेक्शन से जूझ रही थी।

बता दें कि, साधना गुप्ता इटावा जिले के बिधूना की रहने वाली थीं। साधना गुप्ता की शादी 4 जुलाई 1986 को फर्रुखाबाद के चंद्र प्रकाश गुप्ता के साथ हुई थी। 7 जुलाई 1987 को साधना गुप्ता ने बेटे प्रतीक यादव को जन्म दिया था। शादी के 2 साल बाद ही साधना गुप्ता एवं उनके पति चंद्र प्रकाश गुप्ता अलग हो गए थे। अपनी पहली पत्नी के देहांत के कुछ साल के बाद मुलायम ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर किया था, जिसमें उन्होंने साधना गुप्ता को अपनी पत्नी एवं प्रतीक को बेटा बताया था।

Chhattisgarh