Feb 29 2024 / 9:02 PM

मोरक्को: भूकंप में मरने वालों की संख्या 2000 पार, मलबे में दबे लोगों को बचाने की कोशिश जारी

Spread the love

नई दिल्ली। मोरक्को में भूकंप से तबाही मची है। बीते दिन शुक्रवार की देर रात आए भूकंप के इन झटकों ने सैकड़ों लोगों को मौत की नींद सुला दिया है। इस विनाशकारी भूकंप में मरने वालों की संख्या बढ़कर 2000 के पार पहुंच गई है। ये जानकारी मोरक्को के आंतरिक मंत्रालय द्वारा जारी किए गए एक बयान में दी गई है। मोरक्को की सरकार ने भूकंप से हुई तबाही को देखते हुए तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है।

इसके साथ ही कहा गया है कि इस भूकंप में दो हजार से ज्यादा लोग घायल भी हुए हैं। जिनमें से कई की हालत गंभीर बनी हुई है। आंतरिक मंत्रालय के बयान के मुताबिक, शुक्रवार देर रात आए भूकंप में 2012 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। जबकि 2059 लोग घायल हुए हैं। इनमें से 1404 घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है।

बता दें कि शुक्रवार रात करीब सवा ग्यारह बजे मोरक्को के कैसाब्लांका से लेकर मराकेश तक का इलाका 6.8 तीव्रता के भूकंप के झटकों से हिल गया। जिसके कई इमारतें धरासाई हो गई। सैकड़ों लोग इमारतों के मलबे में दब गए। जिन्हें निकालने का काम अभी भी जारी है। यूनाइटेड स्टेट्स जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक, भूकंप स्थानीय समयानुसार शुक्रवार आया। जो जमीन के अंदर 18.5 किमी की गहराई में था। इस भूकंप का केंद्र मराकेश से 71 किमी दक्षिण-पश्चिम में उच्च एटलस पर्वत में था।

बताया जा रहा है कि भूकंप के बाद लगातार बचाव अभियान जारी है। कई लोगों के अभी भी मलबे में दबे होने की आशंका है। कई लोगों को शव मलबे से बरामद किए जा चुके हैं। माना जा रहा है कि इस भूकंप से मरने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है। इस विनाशकारी भूकंप के बाद देश के शाही महल ने तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है। साथ ही ये भी कहा गया है कि सशस्त्र बल प्रभावित क्षेत्रों को स्वच्छ पेयजल, खाद्य आपूर्ति, तंबू और कंबल उपलब्ध कराने के लिए बचाव दल तैनात करेंगे।

Chhattisgarh