Aug 19 2022 / 1:45 AM

भ्रष्टाचार में गिरफ्तार आईएएस संजय पोपली के बेटे ने गोली मारकर की आत्महत्या





Spread the love

नई दिल्ली। भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार पंजाब के आईएएस अधिकारी संजय पोपली के इकलौते बेटे कार्तिक पोपली (26) की शनिवार को चंडीगढ़ स्थित उनके आवास पर संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। कार्तिक के सिर में गोली लगी है। कार्तिक को 7.62 एमएम की गोली लगी है। पुलिस को सूचना मिली थी कि कार्तिक ने गोली मारकर आत्महत्या की है।

वहीं कार्तिक की मां श्री ने आरोप लगाया कि उनके बेटे को विजिलेंस टॉर्चर करती थी। विजिलेंस के मुलाजिमों ने ही बेटे को गोली मारी है। श्री ने कहा कि ये लोग हमारे साथ ऐसे कर सकते हैं तो आम जनता के साथ क्या कर सकते हैं। वहीं पुलिस ने उनके सभी आरोपों का खंडन किया है। पुलिस ने कहा कि पोपली के बेटे ने लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मारी है। पिस्टल सील कर दी गई है। पुलिस उसकी बैलिस्टिक जांच करवाएगी।

संजय पोपली की पत्नी श्री ने कहा कि आज संजय पोपली की पेशी थी। पेशी के बाद विजिलेंस संजय पोपली को साथ लेकर आई थी। विजिलेंस की टीम ने उनके बेटे के ऊपर पिस्टल तान रखी थी। उन्हें भी धक्का मारा। 12 घंटे तक थाने में बिठाकर टॉर्चर करने का आरोप भी लगाया।

उन्होंने डीएसपी वरिंदर गोयल पर टॉर्चर करने का आरोप लगाया। विजिलेंस ने 80 साल के बुजुर्ग को घर के बाहर निकाल दिया। उनका कहना है कि डीएसपी अजय कहते थे झूठा बयान दो। नहीं तो बुरा हाल कर देंगे। उनके बेटे को पीटा भी गया। परिजनों ने कहा कि उनके घर में कोई हाथियार नहीं था। बता दें कि कार्तिक यूपीएससी की तैयारी कर रहा था। वो लॉ का स्टूडेंट था। कुछ दिनों पहले ही उसकी शादी हुई थी।

वहीं, अगर बात आईएएस अधिकारी संजय पोपली पर लगे आरोपों की बात करें, तो उन पर आरोप हैं कि उन्होंने ठेकेदारों से रिश्वत मांगे थे। जिसे संज्ञान में लेने के उपरांत विजिलेंस टीम ने चंडीगढ़ स्थित आवास से उन्हें गिरफ्तार किया था। बता दें कि एंटी करप्शन को शिकायत मिलने के बाद विजिलेंस की टीम हरकत में आई थी। दरअसल, एंटी करप्शन को मिली शिकायत में कहा गया था कि, केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई योजना में 7 करोड़ की सीवरेज परियोजना में संजय 1 प्रतिशत का कमीशन मांग रहे थे।

विजिलेंस ने दावा किया कि पोपली ठेकेदार से शेष 3.5 लाख रुपये की मांग कर रहे थे। शिकायतकर्ता ने फोन कॉल रिकॉर्ड किया और भ्रष्टाचार रोधी हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज कराई। लेकिन, जिस तरह के आरोप वरिष्ठ आईएएस अधिकारी की पत्नी ने लगाए हैं, उसने इस पूरे मामले को नया पहलू दे दिया है। अब ऐसे में यह पूरा मामला क्या कुछ रुख अख्तियार करता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी।

Chhattisgarh