Aug 09 2022 / 3:55 PM

राज्यपाल कोश्यारी का बड़ा बयान, बोले- गुजराती-राजस्थानी हटे तो मुंबई में पैसा नहीं बचेगा





Spread the love

मुंबई। महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के एक बयान से महाराष्ट्र में सियासत गरमा गई है। राज्यपाल कोश्यारी ने एक कार्यक्रम में कहा है कि अगर मुंबई और ठाणे से गुजरातियों और राजस्थानियों को हटा दिया जाए, तो यहां कोई पैसा नहीं बचेगा और मुंबई आर्थिक राजधानी नहीं रह जाएगी।

दरअसल राज्यपाल कोश्यारी मुंबई के अंधेरी पश्चिम क्षेत्र में एक स्थानीय चौक का नाम शांतिदेवी चम्पालालजी कोठारी के नाम पर रखने के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान महाराष्ट्र राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि मैं लोगों से कहना चाहता हूं कि महाराष्ट्र से खासकर मुंबई और ठाणे से गुजरातियों और राजस्थानियों को निकाल दिया जाए तो वहां पैसा नहीं बचेगा और मुंबई को जो देश की आर्थिक राजधानी कहा जाता है तो वो आर्थिक राजधानी भी नहीं कहलाएगी।

इधर कोश्यारी के इस बयान को महाराष्ट्र के अपमान से जोड़ा जा रहा है। राज्यपाल कोश्यारी का बयान वायरल होने पर शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट कर विरोध जताया। उन्होंने लिखा, महाराष्ट्र में बीजेपी प्रायोजित मुख्यमंत्री ने मराठी आदमी और शिवराय का अपमान करना शुरू कर दिया। स्वाभिमान पर निकला समूह अगर यह सुनकर भी चुप रहने वाला है तो शिवसेना का नाम न लें। सीएम शिंदे कम से कम राज्यपाल की निंदा करें। यह मराठी मेहनतकश लोगों का अपमान है।

इधर कांग्रेस ने भी मौका लपक लिया। पार्टी प्रवक्ता सचिन सावंत ने राज्यपाल कोश्यारी के बयान को लेकर कहा कि यह भयानक है कि राज्य के राज्यपाल उसी राज्य के लोगों को बदनाम करते हैं। गुजराती राजस्थानी को पहले नारियल देना चाहिए। उनके शासनकाल में राज्यपाल की संस्था का स्तर और महाराष्ट्र की राजनीतिक परंपरा न केवल बिगड़ी है, बल्कि महाराष्ट्र को भी लगातार अपमानित किया गया है।

Chhattisgarh