Aug 09 2022 / 3:57 PM

महाराष्ट्र: राज्यपाल ने सीएम उद्धव से बहुमत साबित करने को कहा, शिवसेना पहुंची सुप्रीम कोर्ट





Spread the love

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में चल रहे सियासी संकट के बीच राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को सदन में अपना बहुमत साबित करने को कहा है। राज्यपाल ने उद्धव ठाकरे को 30 जून शाम पांच बजे बहुमत साबित करने को कहा है। यही नहीं राज्यपाल ने सदन की कार्रवाई की वीडियो रिकॉर्डिंग करने का भी निर्देश दिया है। यह सत्र 11 बजे से शुरू होगा और शाम 5 बजे तक इसे खत्म करने होगा। राजभवन ने विधान भवन की सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त करने के आदेश भी दिए हैं।

राज्यपाल के इस फैसले के खिलाफ शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है और फ्लोट टेस्ट के इस आदेश को चुनौती दी है। शिवसेना की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट में 5 बजे सुनवाई होगी। वहीं इस मामले में शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि फ्लोर टेस्ट के लिए एक दिन का समय देना अन्याय है और संविधान के साथ नाइंसाफी है।

बात दें कि पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मंगलवार को राज्यपाल से मुलाकात करके कहा था कि उद्धव ठाकरे सरकार अल्पमत में है, जिसके बाद राज्यपाल ने उद्धव ठाकरे से बहुमत साबित करने को कहा है। देवेंद्र फडणवीस ने राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी से मुलाकात से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। माना जा रहा है कि फडणवीस ने दोनों नेताओं को महाराष्ट्र के राजनीतिक घटनाक्रमों से अवगत कराया और राज्य में पार्टी की भावी रणनीति से जुड़े विभिन्न पहुलओं पर चर्चा की।

महाराष्‍ट्र में एकनाथ शिंदे की बगावती तेवर से सियासत गरमाई हुई है। इस बीच, शिवसेना के कुछ बागी विधायकों के साथ एकनाथ शिंदे आज गुवाहाटी के कामाख्या मंदिर गए। बागी शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने कहा कि मैं यहां महाराष्ट्र की शांति और खुशी के लिए प्रार्थना करने आया हूं। फ्लोर टेस्ट के लिए कल मुंबई जाऊंगा और सभी प्रक्रिया का पालन करूंगा।

एकनाथ शिंदे ने 50 विधायकों के समर्थन का दावा किया है। शिंदे ने कहा कि वे लोग जल्द ही मुंबई लौटेंगे और बालासाहब ठाकरे की विरासत को आगे ले जाएंगे। उन्होंने कहा कि विधायकों में कोई मतभेद नहीं है। सभी अपनी मर्जी से उनके साथ आए हैं, और खुश हैं।

Chhattisgarh