Dec 09 2022 / 9:18 AM

गुलाम नबी आजाद ने लॉन्च की अपनी नई पार्टी, नाम रखा डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी

Spread the love

नई दिल्ली। कांग्रेस को छोड़ने बाद वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजादी ने आज अपनी नई पार्टी लॉन्च कर दी है। इस पार्टी का नाम उन्होंने ‘डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी’ रखा है। इसके साथ ही उन्होंने पार्टी के झंडे का भी अनावरण कर दिया है। उनके पार्टी के झंडे में तीन रंगों का इस्तेमाल किया गया है। फोटो में देखा जा सकता है कि नीला, सफेद और पीले रंग का प्रयोग किया गया है। मीडिया को संबोधित करते हुए आजाद ने पार्टी के झंडे का तीन कलर के रंग का मतलब भी बताया।

पार्टी के झंडे को लॉन्च करते हुए गुलाम नबी आजाद ने बताया कि, पीला रंग रचनात्मकता और विविधता में एकता को दर्शाता है। जबकि सफेद रंग अमन और शांति को दिखाता है। इसके इतर उन्होंने नीला रंग का अर्थ भी समुद्र की गहराई से आकाश की उंचाइयों तक की आजादी और खुला स्थान, कल्पना और सीमाओं की ओर संकेत किया है।

इस दौरान गुलाम नबी आजाद ने कहा कि, डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी की अपनी सोच होगी। ये किसी से प्रभावित नहीं होगी। उन्होंने कहा कि आजाद का मतलब होता है स्वतंत्र। पार्टी में नीचे से लेकर ऊपर तक सभी पदों पर चुनाव होंगे और एक हाथ में सारी ताकत नहीं रहेगी।

आजाद ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में डायवर्सिटी है। यहां पर दो संभाग हैं और उसमें बहुत छोटे-छोटे इलाके हैं। इसीलिए हम सोच रहे थे कि पार्टी का नाम ऐसा होना चाहिए जो सबकी समझ में आए। जम्मू और कश्मीर के वे लोग जो गांवों में रहने वाले हैं, उनको भी नाम समझ आना चाहिए।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि देश भर से मेरे चाहने वालों ने उन्हें करीब डेढ़ हजार नाम भेजे हैं, जिनमें कुछ उर्दू में हैं और कुछ हिंदी में, लेकिन मैं चाहता था कि उर्दू और हिंदी के समन्वय के साथ नाम रखा जाए। उन्होंने कहा कि हमने यह पार्टी अपने साथियों के साथ बहुत विचार-विमर्श करके बनाई है और इस पार्टी के बारे में किसी भी अन्य पार्टी को कानों-कान खबर नहीं है।

गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हमारी सोच को कोई भी पार्टी प्रभावित नहीं कर सकती है। हमारी पार्टी की विचारधारा गांधी जी की विचारधारा है। हमारी पार्टी की नीतियां जाति और धर्म से प्रेरित नहीं होगी और हम सभी पार्टियों की इज्जत करते हैं, हमारी किसी से भी राजनीतिक दुश्मनी नहीं है।

Chhattisgarh