Aug 13 2022 / 5:53 AM

मां काली पोस्टर विवाद: टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ मध्यप्रदेश में FIR दर्ज





Spread the love

नई दिल्ली। मां काली पर विवादित और आपत्तिजनक टिप्पणी करना टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा को महंगा पड़ गया है। दरअसल उनके खिलाफ मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में FIR दर्ज कर ली गई है। इसके अलावा खबर ये भी है कि कोलकाता के बाउ बाजार थाने में भी उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

बता दें कि महुआ मोइत्रा ने देवी काली को लेकर विवादित और आपत्तिजनक बयान दिया था। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मामले में कहा है कि महुआ मोइत्रा के बयान से हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है। हिंदू देवी देवताओं का अपमान किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।महुआ मोइत्रा के खिलाफ आईपीसी की धारा 295 A के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया है। ये धारा धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए है।

टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस को ट्विटर पर अनफॉलो कर दिया है। इसकी वजह मां काली पर दिए उनके एक विवादास्पद बयान के बाद पार्टी और उनके बीच हुई तनातनी बताई जा रही है। दरअसल महुआ मोइत्रा ने बीते दिनों मां काली पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि वह उन्हें एक मांस खाने वाली और शराब पीने वाली देवी के रूप में देखती हैं।

हालांकि उनके इस बयान को टीएमसी का समर्थन नहीं मिला, बल्कि ममता बनर्जी की पार्टी ने इस पर बकायदा एक बयान जारी करते हुए कहा है कि पार्टी उनके इस बयान का समर्थन नहीं करती है। इसके बाद महुआ मोइत्रा ने टीएमसी को ट्विटर पर अनफॉलो कर दिया। इसके कुछ देर बाद ही महुआ मोइत्रा ने ट्विटर पर लिखा, जय मां काली! बंगाली देवी की पूजा बिना किसी डर के और बिना किसी तुष्टीकरण के करते हैं।

दरअसल महुआ मोइत्रा ने मां काली पर विवादित बयान एक कार्यक्रम के दौरान दिया था। महुआ मोइत्रा ने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा था कि यह आप पर निर्भर करता है कि आप भगवान को कैसे देखते हैं। महुआ ने कहा था, अगर आप भूटान और सिक्किम जाएं तो वहां पूजा में भगवान को व्हिस्की चढ़ाई जाती है। वहीं आप उत्तर प्रदेश में जाएं और वहां किसी को प्रसाद के रूप में व्हिस्की दें तो उसकी भावनाएं आहत हो सकती हैं।

Chhattisgarh