Feb 06 2023 / 2:18 PM

प्रदर्शनकारी पहलवानों का धरना जारी, केंद्रीय खेल मंत्रालय ने WFI से स्पष्टीकरण मांगा

Spread the love

नई दिल्ली। कुश्ती महासंघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह पर महिला पहलवानों ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। विनेश फोगाट सहित कई महिला पहलवानों ने यह आरोप लगाया है। जिसे लेकर दिल्ली स्थित जंतर-मंतर पर बीते बुधवार से महिला पहलवानों का प्रदर्शन जारी है। उधर, खेल मंत्रालय ने इन आरोपों पर संज्ञान लेने के बाद कुश्ती महासंघ से जवाब तलब किया है।

केंद्रीय खेल मंत्रालय ने भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) से स्पष्टीकरण मांगा है। साथ ही महासंघ को ओलंपिक और राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं सहित पहलवानों की ओर से लगाए गए आरोपों पर अगले 72 घंटों के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया गया है।

गुरुवार सुबह दिल्ली के जंतर मंतर पर एक बार फिर भारतीय पहलवानों का जमावड़ा लगा, जिसमें ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक और बजरंग पुनिया सहित लगभग 200 एथलीटों ने महासंघ प्रमुख और कई कोचों के खिलाफ यौन उत्पीड़न के लिए कार्रवाई की मांग की। ओलंपियन पहलवान बजरंग पुनिया ने कहा कि अगर हम अपने देश के लिए लड़ सकते हैं, तो हम अपने अधिकारों के लिए भी लड़ सकते हैं।

चैंपियन पहलवान और बीजेपी नेता बबीता फोगट दिल्ली के जंतर मंतर पर धरना स्थल पर पहुंचीं। उन्होंने कहा कि मैंने उन्हें आश्वासन दिया है कि सरकार उनके साथ है। मैं कोशिश करूंगी कि आज उनके मुद्दों को सुलझाया जाए। वहीं, पहलवान बरजंग पुनिया ने कहा कि सरकार की तरफ से बबीता फोगाट मध्यस्थता के लिए आई हैं. हम उसके साथ बात करेंगे और फिर अधिक जानकारी देंगे।

बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक, विनेश फोगट और अन्य शीर्ष भारतीय पहलवानों ने बुधवार की रात पुरानी दिल्ली के चांदनी चौक के एक मंदिर में बिताई। इससे पहले दिन में, SAI (भारतीय खेल प्राधिकरण) के कुछ वरिष्ठ अधिकारियों ने भी उनसे मुलाकात की और कार्रवाई का आश्वासन दिया।

उधर, अपने ऊपर लगे आरोपों को भारतीय कुश्ती संघ के चीफ बृजभूषण सिंह ने बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि 97% खिलाड़ी WFI के साथ हैं। मैं यौन उत्पीड़न के आरोपों से आहत हूं। कोई भी खिलाड़ी मुझ पर या मुख्य कोच पर ये आरोप नहीं लगा सकता। बृजभूषण सिंह ने यौन उत्पीड़न के आरोपों पर कहा कि कुछ पहलवानों पर धरने पर बैठने का दबाव बनाया गया है।

Chhattisgarh