Aug 09 2022 / 2:17 PM

दिल्ली के उपराज्यपाल ने की बड़ी कार्रवाई, 11 आबकारी अधिकारियों को किया निलंबित





Spread the love

नई दिल्ली। दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने दिल्ली की आबकारी नीति में हुई धांधली के आरोप में बड़ी कार्रवाई की है। उन्होंने एक साथ 11 आबकारी ऑफिसरों को निलंबित कर दिया है। वीके सक्सेना ने विजिलेंस रिपोर्ट के बाद आबकारी नीति में घोटाले के आरोप में ये कार्रवाई करते हुए आबकारी आयुक्त आरव गोपी कृष्ण, तत्कालीन आबकारी आयुक्त दानीक्स आनंद कुमार तिवारी सहित 11 अधिकारियों को निलंबित कर दिया है।

बता दें कि उपराज्पाल द्वारा ये बड़ी कार्रवाई आबकारी नीति को लागू करने में हुई चूक को लेकर की गई है। उन्होंने अधिकारियों के खिलाफ निलंबन और अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की विजिलेंस को मंजूरी दे दी है।

इससे पहले उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया जो आबकारी मंत्री भी हैं, ने पहली बार स्वीकार किया है कि दिल्ली सरकार को नई आबकारी नीति 2021-22 के तहत ‘हजारों करोड़ रुपए’ का नुकसान हुआ है और इसके लिए उन्होंने एलजी पर ही आरोप लगाया, जिन्होंने 17 नवंबर 2021 से लागू हुई नई व्यवस्था पर अंतिम क्षण में यू-टर्न ले लिया है।

शनिवार को सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि 2021-22 आबकारी नीति को लागू करने से पहले दो बार फाइल को एलजी के पास भेजा गया था। इन आरोपों के कुछ ही मिनट के बाद, एलजी कार्यालय ने बताया कि उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने दिल्ली के तत्कालीन आबकारी आयुक्त, आईएएस अधिकारी आरव गोपी कृष्ण और दानिक्स अधिकारी आनंद कुमार तिवारी, उप आबकारी आयुक्त के खिलाफ ‘प्रमुख अनुशासनात्मक कार्यवाही’ शुरू करने को मंजूरी दे दी है।

Chhattisgarh