Aug 09 2022 / 4:05 PM

बागी विधायकों से सीएम उद्धव ठाकरे की भावुक अपील, कहा- मुझे अभी भी आपकी चिंता, वापस आएं…





Spread the love

नई दिल्ली। शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे के बागी होने के बाद से महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार पर संकट के बादल छाए हुए हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की कुर्सी पर खतरा मंडराया हुआ है। एमवीए सरकार बचाने के लिए सीएम उद्धव ठाकरे ने एड़ी चोटी का जोर लगाया हुआ है। लेकिन एकनाथ शिंदे लगातार उनके अरमानों पर पानी फेरते जा रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भाजपा ने कवायद शुरू कर दी है।

वहीं, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को शिवसेना के बागी विधायकों से एक भावुक अपील की, उनसे वापस लौटने और अपने मुद्दों को हल करने के लिए बातचीत में शामिल होने का आग्रह किया। उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के बागी विधायकों के नाम ओपन लेटर जारी किया है। इसमें उद्धव ठाकरे ने कहा है कि शिवसेना पार्टी प्रमुख और परिवार के मुखिया के रूप में मुझे अभी भी आपकी चिंता है।

उद्धव ठाकरे ने ओपन लेटर में कहा है, आप पिछले कुछ दिनों से गुवाहाटी में फंसे हुए हैं। आपके बारे में रोज नई जानकारी सामने आ रही है। आप में से कई लोग संपर्क में भी हैं। आप अभी भी दिल से शिवसेना में हैं। आप में से कुछ विधायकों के परिवार के सदस्यों ने भी मुझसे संपर्क किया है और मुझे अपनी भावनाओं से अवगत कराया है।

उन्होंने आगे कहा, शिवसेना के परिवार के मुखिया के रूप में मैं आपकी भावनाओं का सम्मान करता हूं। भ्रम से छुटकारा पाएं, इसका एक निश्चित रास्ता होगा, हम बैठेंगे एक साथ और इससे बाहर निकलने का रास्ता खोजें। किसी की गलती के झांसे में न आएं, शिवसेना की ओर से दिया गया सम्मान कहीं नहीं मिल सकता, आगे आकर बोलेंगे तो मार्ग प्रशस्त होगा। शिवसेना पार्टी प्रमुख और परिवार के मुखिया के रूप में मुझे अभी भी आपकी चिंता है। अंदर आएं, एक नज़र डालें और आनंद लें!

इससे पहले आज एकनाथ शिंदे ने अपने खेमे की मुंबई वापसी की घोषणा करने के लिए असम में गुवाहाटी के होटल रैडिसन ब्लू से बाहर कदम रखा। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, हम शिवसेना में हैं, हम शिवसेना को आगे ले जा रहे हैं। इसमें कोई संदेह नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा, यहां कोई विधायक नहीं दबाया गया है, सभी खुश हैं। विधायक हमारे साथ हैं। अगर शिवसेना कहती है कि यहां मौजूद विधायक उनके संपर्क में हैं, उन्हें नामों का खुलासा करना चाहिए।

Chhattisgarh