Sep 27 2022 / 7:49 AM

भारत बायोटेक की नेजल वैक्सीन को मिली मंजूरी, जानिए फायदे

Spread the love

नई दिल्ली। भारत बायोटेक की नाक के रास्ते दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल के लिए डीजीसीआई की ओर से मंजूरी दे दी गई है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने इस बात की जानकारी दी, बता दें यह भारत की पहली नोजल वैक्सीन होगी। इसके आने के बाद अब ये माना जा रहा है कि इससे भारत में कोरोना के खिलाफ जंग को एक नई मजबूती मिलेगी। गौरतलब है, भारत ने अब तक 100 करोड़ कोविड टीकाकरण करके एक रिकॉर्ड कायम किया है।

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने इस संबंध में ट्वीट करते हुए लिखा है कि कोविड 19 के खिलाफ लड़ाई में भारत ने एक बड़ी छलांग लगाई है। भारत बायोटे की नाक के रास्ते दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन को डीसीजीआई ने मंजूरी दे दी है। उन्होंने लिखा कि इसके बाद यह दवा भारत में 18 साल से ज्यादा के लोगों को इमरजेंसी हालत में दी जा सकती है।

देश के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा 6 सितंबर यानि मंगलावर को सुबह 8.00 बजे कोरोना वायरस के ताजा आंकड़ें पेश किए गए, जिसके अनुसार देश में पिछले 24 घंटों में इस महामारी के 4,417 नए एक्टिव केस सामने आए हैं। वहीं इस दौरान 23 गंभीर मरीजों की मौत हो गई। इस दौरान राहत की बात ये रही कि बीते 24 घंटे में कोरोना से कुल 6,032 लोग ठीक भी हुए हैं। फिलहाल एक्टिव मामलों की कुल संख्या पहले से घटकर 52,336 हो गई है। पूरे भारत में अब तक कोरोना से कुल 4 करोड़ 38 लाख 86 हजार 496 लोग ठीक हो चुके हैं।

भारत में अब तक कोविड-19 के 4 करोड़ 44 लाख 66 हजार 862 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि पूरे कोरोना काल में अलावा 5 लाख 28 हजार 30 लोगों की मौत भी हो चुकी है। फिलहाल देश में एक्टिव केस कुल मामलों का 0.12 प्रतिशत है। जबकि कोरोना से ठीक होने वाले लोगों का दर 98.69 प्रतिशत हो गया है। कोरोना की डेली पाजिटिविटी दर 1.20 प्रतिशत हो गई है जबकि साप्ताहिक दर 2.06 प्रतिशत है।

Chhattisgarh