Aug 13 2022 / 12:13 AM

अरुणाचल प्रदेश: चीन सीमा के पास रोड प्रोजेक्ट पर काम रहे 18 मजदूर लापता, 1 की मौत





Spread the love

नई दिल्ली। भारत-चीन सीमा के करीब अरुणाचल प्रदेश में एक हादसे में 1 मजदूर की मौत हो गई। इसके साथ ही 18 अन्य मजदूर लापता हैं। बताया जा रहा है कि ये मजदूर कुरुंग कुमे जिले में एक सड़क के प्रोजेक्ट पर काम कर रहे थे। 5 जुलाई के बाद से इन 19 मजदूरों का कुछ पता नहीं चल पा रहा था। इसी मामले में अब जिले के डिप्टी कमिश्नर ने बताया है कि एक मजदूर का शव बरामद किया गया है और बाकी के 18 मजदूरों की तलाश अभी भी जारी है।

बता दें कि भारत और चीन की सरहद के पास कुरुंग कुमे जिले के दामिन में सड़क निर्माण किया जा रहा है। यह सड़क परियोजना ‘सड़क सीमा संगठन’ (बीआरओ) की निगरानी में काम किया जा रहा है। बीआरओ पूर्वोत्तर के इलाकों में ढांचागत परियोजनाओं का एक विशाल नेटवर्क तैयार कर कर रहा है। इसी के तहत दामिन में काम कराने के लिए मजदूरों को लाया गया था। जिला उपायुक्त बेंगिया निघी ने बताया कि गत 5 जुलाई के बाद से दामिन में काम कर रहे 19 मजदूर लापता हो गए थे। इनमें से ज्यादातर असम राज्य के रहने वाले हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एक पुलिस अधिकारी ने दावा किया कि मजदूरों ने ठेकेदार से ईद का त्योहार मनाने के लिए छुट्टी मांगी थी लेकिन ठेकेदार ने कथित छुट्टी देने से मना कर दिया। इसके बाद ये मजदूर पैदल ही निकल गए और कुरुंग कुमे के घने जंगलों में खो हो गए। अधिकारी ने बताया कि 18 मजदूरों का अभी कुछ पता नहीं चल पा रहा है। स्थानीय रिपोर्ट्स में आशंका जताई जा रही है कि ये संभवतः कुमी नदी की बाढ़ में बह गए थे। पुलिस अधिकारी ने बताया कि लापता मजदूरों को खोजने और कुमे नदी में बहने की खबरों की पुष्टि के लिए बचाव दल भेजा जाएगा।

गौरतलब है कि पूर्वोत्तर के कई इलाके इन दिनों बारिश और बाढ़ की मार झेल रहे हैं। भारी बारिश के बाद अरुणाचल, असम और मिजोरम में नदियां उफान पर हैं। इस महीने के शुरू में अरुणाचल के कुरुंग कुमे जिले में रणनीतिक रूप से दो अहम स्थानों को जोड़ने वाला एक पुल बाढ़ में बह गया था। बीआरओ के अधिकारी ने 3 जुलाई को बताया था कि भारत-चीन सीमा के नजदीक कोरोरू गांव के पास ओयोंग नदी पर बना पुल जिला मुख्यालय कोलोरिंग को दामिन से जोड़ने के लिए बना था, जो अचानक आई बाढ़ में बह गया।

Chhattisgarh