May 24 2022 / 5:29 AM

कब है अक्षय तृतीया, जानें शुभ मुहूर्त और महत्व

हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया को काफी शुभ माना जाता है। इस दिन मांगलिक और शुभ कार्य किए जाते हैं। अक्षय तृतीया को आखा तीज के नाम से भी जाना जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार, हर वर्ष वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया पड़ती है। इस बार अक्षय तृतीया 3 मई 2022 को पड़ रही हैं।

ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार, 50 साल बाद इस साल मंगल रोहिणी नक्षत्र का शोभन योग बन रहा है। वहीं 30 साल बाद इस योग में अक्षय तृतीया मनाई जा रही है। बता दें कि अक्षय तृतीया के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा अर्चना की जाती है और उनसे खुशहाल जीवन का वर मांगा जाता है।

अक्षय तृतीया शुभ मुहूर्त

अक्षय तृतीया तिथि शुरू – 3 मई, 2022 सुबह 5:18 मिनट पर।
अक्षय तृतीया तिथि समाप्त – 4 मई, 2022 सुबह 7:32 मिनट तक।
रोहिणी नक्षत्र – 3 मई, 2022 सुबह 12:34 मिनट से शुरू होकर 4 मई, 2022 सुबह 3:18 मिनट तक।

अक्षय तृतीया का महत्व

अक्षय तृतीया के दिन को अबूझ मुहूर्त के रूप में माना जाता है। इस दिन विवाह के साथ-साथ वस्त्र, सोने-चांदी के आभूषण, वाहन, मकान, प्रॉपर्टी आदि खरीदना शुभ माना जाता है। मान्यता है कि इस धार्मिक कार्यों के साथ-साथ दान पुण्य करना फलदायी होता है। ऐसा करने से धन धान्य में बढ़ोतरी होती है।

अक्षय तृतीया मनाने का कारण

अक्षय तृतीया मनाने को लेकर काफी मान्यताएं है। पहली पौराणिक मान्यता के अनुसार, इस दिन भगवान विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम का जन्म हुआ था। इसी कारण इस दिन को अक्षय तृतीया के रूप में मनाया जाता है। इसके साथ ही इस दिन परशुराम का जन्मोत्सव भी मनाया जाता है।

Chhattisgarh