May 26 2022 / 11:10 AM

करजी में बांस और पैरे से बनी छप्पर के नीचे बैठकर मुख्यमंत्री ने की आमजनों से भेंट-मुलाकात

हायर सेकेण्डरी स्कूल भवन निर्माण और स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने की घोषणा

टपरकेला में बनेगा सामुदायिक भवन

कुबेरपुर और आमादरहा में सोलर लिफ्ट इरीगेशन की स्थापना की जाएगी

एसबीआई का ए.टी.एम. प्रारंभ करने की जाएगी पहल

मुख्यमंत्री खुद आवेदन लेने पहुंचे लोगों के बीच

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के सातवें दिन आज सरगुजा(अम्बिकापुर) जिले के विधानसभा क्षेत्र लुंड्रा के ग्राम करजी पहुंचे। उन्होंने ग्राम करजी में आम के पेड़ों के बीच पारंपरिक रूप से बांस और पैरे से बनी छप्पर के नीचे बैठकर आमजनों से भेंट-मुलाकात की और उनकी समस्याएं सुनी। गौरतलब है कि बांस और पैरे से बने इस पारंपरिक छप्पर का निर्माण पड़ोसी गांव परसोढ़ी खुर्द के बंसोड़ समुदाय के लोगों द्वारा तैयार किया गया है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इस दौरान ग्राम करजी में कक्षा 11वीं की छात्रा मधुलिका प्रजापति के आग्रह पर हायर सेकेण्डरी स्कूल भवन निर्माण की घोषणा की। उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर करजी में स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने, एसबीआई का ए.टी.एम. प्रारंभ करने के लिए प्रक्रिया शुरू करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने इस मोके पर कहा कि ग्राम टपरकेला में सामुदायिक भवन निर्माण, कुबेरपुर और आमादरहा में सोलर लिफ्ट इरिगेशन की स्थापना की जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने भेंट-मुलाकात के दौरान करजी के ग्रामीणों से उनका हाल-चाल जाना और राज्य सरकार की योजनाओं के संबंध में भी आमजनों से जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने लोगों के बीच पहुंचकर स्वयं आवेदन लिए और सभी आवेदनों पर त्वरित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। उन्होंने पटवारी के काम-काज के संबंध में भी लोगों से पूछा। ग्रामीणों ने पटवारी श्री गयाराम सिंह की तारीफ करते हुए बताया कि वे समय पर कार्यालय आ जाते हैं और सारे राजस्व रिकॉर्ड दुरूस्त रखते हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल भी पटवारी श्री गयाराम के मुरीद हुए और पटवारी की प्रशंसा भी की। इस मौके पर करजी की श्रीमती यूनिता सिंह ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनका बच्चा दिव्यांग है। वह बीमार रहता है और पैरों में काफी तकलीफ है। श्रीमती सिंह ने अपने दिव्यांग बच्चे का इलाज कराने के लिए अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने श्रीमती यूनिता सिंह को आश्वस्त करते हुए तत्काल उनके बच्चे का इलाज कराने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने करजी में भेंट-मुलाकात के बाद तहसील कार्यालय का निरीक्षण भी किया। उन्होंने अधिकारियों से नामांतरण, सीमांकन, फौती, बंटवारा सहित लंबित राजस्व प्रकरणों तथा जाति, निवास और आय प्रमाण पत्रों के सम्बंध में जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने भुइयां वेबसाइट पर विवादित राजस्व प्रकरण के निराकरण की स्थिति को स्वयं देखा।

भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, लुंड्रा विधायक डॉ. प्रीतम राम, अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे।

Chhattisgarh