May 26 2022 / 10:51 AM

‘चिंतन शिविर’ में बोलीं सोनिया गांधी- महात्मा गांधी के हत्यारों का महिमामंडन कर रही सरकार

उदयपुर। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को ‘चिंतन शिविर’ संबोधन की शुरुआत केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार को कड़ी फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि सरकार अल्पसंख्यकों के साथ क्रूरता कर रही है और महात्मा गांधी के हत्यारों का महिमामंडन कर रही है।

उन्होंने कहा कि ‘नव संकल्प चिंतन शिविर’ हमें उन अनेक चुनौतियों पर चर्चा करने का अवसर देता है, जिनका सामना देश भाजपा, आरएसएस और उसके सहयोगियों की नीतियों के परिणामस्वरूप कर रहा है।

उदयपुर में तीन दिवसीय सत्र को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने कहा, यह हमारे आगे के कई कार्यों पर विचार-विमर्श करने का भी अवसर है। यह राष्ट्रीय मुद्दों के बारे में ‘चिंतन’ और हमारे पार्टी संगठन के बारे में सार्थक ‘आत्मचिंतन’ दोनों है।

उन्होंने कहा, इसका अर्थ है देश को ध्रुवीकरण की स्थायी स्थिति में रखना, लोगों को लगातार भय और असुरक्षा की स्थिति में रहने के लिए मजबूर करना, अल्पसंख्यकों को शातिर तरीके से निशाना बनाना और अक्सर उन पर अत्याचार करना जो हमारे समाज का अभिन्न अंग हैं और हमारे गणतंत्र के समान नागरिक हैं। अब तक यह पूरी तरह से और दर्दनाक रूप से स्पष्ट हो गया है कि पीएम मोदी और उनके सहयोगियों का वास्तव में उनके नारे ‘अधिकतम शासन, न्यूनतम सरकार’ से क्या मतलब है।

इससे पहले कांग्रेस नेता और राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि इस समय जब लोकतंत्र खतरे में है, न्यायपालिका दबाव में है, ईडी और सीबीआई का दुरुपयोग हो रहा है, सांप्रदायिक दंगे हो रहे हैं, जो हो रहा है उसकी सुनने वाला कोई नहीं है। उनके लिए (बीजेपी) अब अगला निशाना राजस्थान है।

Chhattisgarh