May 24 2022 / 4:32 AM

कांग्रेस नेता गुलाम नबी को पद्म भूषण, CDS बिपिन रावत मरणोपरांत को मिला पद्म विभूषण, राष्ट्रपति ने किया सम्मानित

नई दिल्ली। भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत को मरणोपरांत देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया है। सीडीएस की तरफ से उनकी बेटियों कृतिका और तारिणी ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से ये सम्मान प्राप्त किया है।

पूर्व सीडीएस रावत बीते साल दिसंबर में एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में शहीद हो गए थे। इस हादसे में जनरल रावत की पत्नी मधुलिका रावत और रक्षा बल के 12 अन्य जवान भी शहीद हुए थे।

गौरतलब है कि पद्म पुरस्कार, देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक, तीन श्रेणियों, पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री में प्रदान किए जाते हैं। पुरस्कार विभिन्न विषयों / गतिविधियों के क्षेत्रों में दिए जाते हैं, जिनमें- कला, सामाजिक कार्य, सार्वजनिक मामले, विज्ञान और इंजीनियरिंग, व्यापार और उद्योग, चिकित्सा, साहित्य और शिक्षा, खेल, सिविल सेवा, आदि शामिल होते हैं।

‘पद्म विभूषण’ असाधारण और विशिष्ट सेवा के लिए दिया जाता है। उच्च कोटि की विशिष्ट सेवा के लिए ‘पद्म भूषण’ और किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के लिए ‘पद्म श्री’ से सम्मानित किया जाता है। पुरस्कारों की घोषणा हर साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है।

ये पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति द्वारा औपचारिक समारोहों में प्रदान किए जाते हैं जो आमतौर पर हर साल मार्च/अप्रैल महीने में राष्ट्रपति भवन में आयोजित किए जाते हैं। इस वर्ष राष्ट्रपति ने दो युगल मामलों सहित 128 पद्म पुरस्कारों को प्रदान करने की मंजूरी दी है (एक युगल मामले में, पुरस्कार की गणना एक के रूप में की जाती है)।

इस सूची में 4 पद्म विभूषण, 17 पद्म भूषण और 107 पद्म श्री पुरस्कार शामिल हैं। पुरस्कार पाने वालों में 34 महिलाएं हैं और इस सूची में विदेशियों/एनआरआई/पीआईओ/ओसीआई की श्रेणी के 10 व्यक्ति और 13 मरणोपरांत पुरस्कार पाने वाले भी शामिल हैं।

Chhattisgarh