May 29 2022 / 6:49 AM

बंगाल विधानसभा में टीएमसी-बीजेपी विधायकों के बीच चले लात-घूंसे, शुवेंदु अधिकारी समेत 5 विधायक निलंबित





नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बंगाल विधानसभा का बजट सत्र चल रहा है, लेकिन इस दौरान काफी बवाल देखने को मिला है। दरअसल विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के विधायक के बीच जमकर नोकझोंक देखने को मिली। लेकिन, देखते ही देखते हंगामा इतना बढ़ गया कि टीएमसी के विधायकों ने आपा खो दिया। बीजेपी और टीएमसी विधायकों के बीच जमकर हाथापाई हुई।

इतना ही नहीं दोनों पार्टी के विधायकों के बीच जमकर लात-घूंसे भी चले। बताया जा रहा है कि बीरभूम हिंसा मामले और बंगाल की खराब कानून व्यवस्था को लेकर जब बीजेपी ने इस मुद्दे पर चर्चा की मांग की तो ममता के विधायकों को गुस्सा आ गया और इस दौरान विधानसभा में टीएमसी विधायकों ने मयार्दा को तार-तार कर दिया। इसका वीडियो खुद बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है।

जानकारी के मुताबिक, विधानसभा में बीरभूम मामले में बीजेपी विधायक ममता सरकार से चर्चा कराने की मांग कर रहे थे, लेकिन ममता सरकार के नुमाइंदों की तरफ से किसी भी प्रकार की सकारात्मक प्रतिक्रिया सामने नहीं आई, जिसके उपरांत बीजेपी विधायक ने अपने विरोध की नुमाइश करने हेतु धरने पर पड़ गए, लेकिन महज सांकेतिक विरोध की नुमाइश कब हिंसक हो गई। पता ही नहीं चला।

बता दें कि इस मामले ने विधान सभा में तूल पकड़ ली और देखते ही देखते टीएमसी- बीजेपी के विधायक आपस में भिड़ गए। हाथापाई में भाजपा विधायक मनोज तिग्गा के कपड़े फाड़ दिए गए। उधर, टीएमसी विधायक असित मजूमदार की नाक में चोट लग गई।

वहीं, विधानसभा अध्यक्ष बिमन बंद्योपाध्याय ने सोमवार को सदन में अभद्र व्यवहार करने के आरोप में विपक्ष के नेता शुवेंदु अधिकारी सहित भाजपा के पांच विधायकों को निलंबित कर दिया। अधिकारी के अलावा भाजपा विधायक दीपक बर्मन, शंकर घोष, मनोज तिग्गा और नरहरि महतो को स्पीकर ने इस साल भविष्य के सत्रों के लिए निलंबित कर दिया है।

Chhattisgarh