Jul 02 2022 / 2:16 PM

बीरभूम हिंसा: कलकत्ता हाईकोर्ट ने CBI जांच का दिया आदेश





Spread the love

नई दिल्ली। कलकत्ता हाईकोर्ट ने पश्चिम बंगाल के बीरभूम हिंसा मामले की जांच CBI को सौंप दी है। कलकत्ता हाईकोर्ट ने इस मामले की सुनवाई के बाद यह आदेश जारी किया। कलकत्ता हाईकोर्ट ने सीबीआई को सात अप्रैल तक रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया। इससे पहले हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से इस मामले पर स्टेटस रिपोर्ट मांगी थी। हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए इस मामले की सुनवाई शुरू की थी।

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के रामपुर हाट में टीएमसी नेता भादू शेख की हत्या के बाद 21 मार्च को पूरे जिले में हिंसा भड़क गई थी। इस हिंसा में कुल 10 लोगों को जिंदा जलाकर मार दिया गया था। इस दौरान घरों को बाहर से बंद कर आग लगा दिया गया था, जिसमें कुल 10 लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना में कई लोग घायल भी हुए थे।

वहीं इस पूरे मामले पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सख्त रुख अख्तियार किया हुआ है। ममता ने अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सहयोगियों सहित बीरभूम हत्याकांड के सभी संदिग्धों को पकड़ने के आदेश दिए हैं। बंगाल सीएम के आदेश के कुछ घंटे बाद, पुलिस ने बृहस्पतिवार को तीर्थनगरी तारापीठ स्थित एक होटल के पास से तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता अनारुल हुसैन को गिरफ्तार भी कर लिया।

इससे पहले दिन बनर्जी ने बोगतुई गांव का दौरा किया जहां आठ लोगों को कथित तौर पर जिंदा जलाकर मार दिया गया था। बनर्जी ने पीड़ितों के परिवार के सदस्यों के साथ बात की और उन्हें मुआवजे के रूप में स्थायी सरकारी नौकरी और धनराशि की भी पेशकश की। बनर्जी टीएमसी नेता भादु शेख के घर भी गईं, जिनकी हत्या के बारे में संदेह है उसी के बाद हिंसा की घटना हुई।

Chhattisgarh